भुवनेश्वर, जेएनएन।  बीजू जनता दल ने बुधवार से महानदी महासंग्राम के दूसरे चरण का अभियान शुरू किया। ओडिशा में महानदी के प्रवेश पथ झारसुगुड़ा जिला के सुखासोड़ा एवं बरगड़ जिला के चिखिली में पार्टी की ओर से आयोजित महानदी सुरक्षा यात्रा को मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने हरी झंडी दिखाकर रवाना किया। यह यात्रा करीब 1560 किलोमीटर की दूरी तय करके 30 तारीख को पारादीप पहुंचेगी।

मुख्यमंत्री ने सुखासोड़ा में इस अभियान की शुरुआत करते हुए कहा कि महानदी ओडिशा की जीवन रेखा है, यह हमारी मां है, इसे किसी भी सूरत में सूखने नहीं दिया जाएगा। उन्होंने कहा कि यह अभियान केवल बीजद का नहीं है, बल्कि यह पूरे ओडिशा के लोगों का है। उन्होंने प्रदेश की जनता से इस अभियान में शामिल होने का आह्वान करते हुए कहा कि महानदी की हालत छत्तीसगढ़ के कारण बेहाल है। उसके तट सूख रहे हैं। फसल का भारी नुकसान हो रहा है। पेयजल का गंभीर संकट हो रहा है। छत्तीसगढ़ और केंद्र में भाजपा सरकार होने के कारण ओडिशा की सुनवाई नहीं हो रही है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि महानदी पर ट्रिब्यूनल का गठन करने के लिए सुप्रीम कोर्ट तक का दरवाजा खटखटाना पड़ा। छत्तीसगढ़ सरकार द्वारा एक तरफा बैराज का निर्माण करने से ओडिशावासी ¨चतित हैं। छत्तीसगढ़ व केंद्र की भाजपा सरकार ओडिशा के हित के खिलाफ काम कर रही हैं। राज्य के भाजपा नेता इस मुद्दे पर केवल घड़ियाली आंसू बहा रहे हैं। अगर ये लोग ओड़िआवासियों से प्रेम करते हैं तो छत्तीसगढ़ के बैराज निर्माण का विरोध करें। इस मौके पर सांसद सौम्य रंजन पटनायक, मंत्री सूर्य नारायण पात्र, विधायक देवी मिश्र, संजय दासवर्मा, पूर्व विधायक अनूप शाहा आदि ने भी सभा को संबोधित किया।