भुवनेश्वर, जेएनएन। राज्य में लचर कानून व्यवस्था को लेकर सड़क से सदन तक हंगामा मचा हुआ है। इसी बीच राजधानी भुवनेश्वर में मंगलवार को लुटेरों ने एक के बाद एक तीन लूट की घटनाओं को अंजाम देकर कमिश्नरेट पुलिस को खुली चुनौती दे दी। मंचेश्वर इलाके में एक ही दिन अलग-अलग तीन लूट की वारदातों के बाद बुधवार को जनाक्रोश फूट पड़ा। सैकड़ों की संख्या में व्यापारियों ने सड़क पर उतरकर रसूलगढ़ चौक में विरोध प्रदर्शन करते हुए टायर जलाकर यातायात ठप कर दिया। इससे कटक एवं भुवनेश्वर को जोड़ने वाले इस मार्ग पर वाहनों की लंबी कतार लग गई।

उत्तेजित लोगों ने तुरंत दोषियों को गिरफ्तार करने समेत कानून व्यवस्था दुरुस्त करने की मांग की। इसकी सूचना मिलते ही खुद पुलिस कमिश्नर सत्यजीत महांती मौके पर पहुंचे और लोगों को समझाकर यातायात सुचारु कराया। दोषियों को जल्द से जल्द गिरफ्तार करने के साथ सख्त कार्रवाई करने का आश्वासन दिया है। राजधानी में बढ़ती लूटपाट घटना को रोकने के लिए क्या कदम उठाए जाए। इसपर वरिष्ठ पुलिस अधिकारियों के साथ बैठक करने की बात भी पुलिस कमिश्नर ने कही है।

बताया जाता है कि मंगलवार की देर रात रसूलगढ़ गांव चौक के पास एक व्यवसायी पर जानलेवा हमला करते हुए लुटेरों ने उससे नकद 50 हजार रुपये लूट लिए। भुक्तभोगी तृप्ति रेस्तरा के मालिक बुलू सामंतराय को गंभीर अवस्था में कैपिटल अस्पताल में भर्ती किया गया है। यह घटना मंचेश्वर थाना से महज दो सौ से तीन सौ मीटर की दूरी पर घटी। वहीं इसी थाना क्षेत्र के रेलवे मार्केट के पास आदिमता कॉलोनी इलाके में साई सृष्टि अपार्टमेंट में रहने वाले उमाकांत मिश्र को लुटेरों ने धारदार हथियार दिखाकर लूट लिया है।

मिश्र मंगलवार की सुबह किसी जरूरी काम से अपनी पत्नी, पुत्र एवं पुत्री के साथ ऑटो से भुवनेश्वर रेलवे स्टेशन जाने के लिए निकले थे तभी लुटेरों ने उनके पास मौजूद सोने के गहने लूटकर फरार हो गए। ये लुटेरे बिना नंबर की पल्सर बाइक से आए थे। ऑटो चालक द्वारा पुलिस कंट्रोल रूम को घटना की जानकारी दिए जाने के बाद मंचेश्वर थानेदार यतींद्र नाथ सेठी मौके पर पहुंचे और घटना की जांच जारी रखी है। मिश्रा के अनुसार, 85 ग्राम सोने के आभूषण की लूट हुई है। इसी तरह तीसरी लूट की घटना भी मंचेश्वर थाना क्षेत्र की है। बैंक कर्मचारी सदानंद स्वांई सुबह फूल तोड़ने के लिए निकले थे तभी तीन लुटेरों ने उनकी पिटाई कर उनकी सोने की अंगूठी लूटकर फरार हो गए। इस संबंध में स्वांई की बेटी ने थाना में शिकायत की है। लुटेरों की पिटाई से घायल स्वांई का अस्पताल में इलाज चल रहा है। लगातार लुटेरों के बढ़ते आतंक का असर यह हो गया है कि रसुलगड़ इलाके के लोगों में भय का माहौल है।

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप