भुवनेश्वर, जेएनएन राज्य सरकार ने 20 लौह अयस्क एवं मैगनीज खदानों को नीलाम करने की तैयारी पूरी कर ली है। राज्य इस्पात एवं खदान विभाग की तरफ से मिली जानकारी के मुताबिक 10 लौह अयस्क एवं मैगनीज खदानों की नीलामी के लिए शुक्रवार को विज्ञप्ति जारी कर दी गई जबकि अन्य 10 खदानों के लिए आगामी 14 अक्टूबर को विज्ञप्ति प्रकाशित की जाएगी।

पहले 31 मार्च तक लीज अवधि खत्म होने वाली खदानों की नीलामी की जाएगी। इन 10 खदानों में 7 लौह अयस्क खदान हैं जबकि 3 लौह अयस्क एवं मैगनीज खदान हैं। नुआगां, ठाकुराणी, जिलिंग, झरीबाहाल, रोइड़ा-2, जुरूरी, गणुआ लौह अयस्क खदान तथा सीलझोरा-कालीमाटी नारायणपोशी, महुलसुख लौह अयस्क एवं मैगनीज खदान शामिल हैं। इन खदानों के लिए टेंडर  का आह्वान किया गया है। खदान लेने के लिए आग्रही व्यक्ति 15 नवम्बर से टेंडर भर सकता है। टेंडर भरने की अंतिम तिथि 18 नवम्बर है। प्रत्येक टेंडर के लिए 5 लाख रुपया शुल्क रखा गया है।

खदान नीलामी के बारे में अधिक जानकारी के लिए एमएसटीसी लिमिटेड वेबसाइट को लाग इन कर आवेदन फार्म डाउन लोड करने के लिए इस्पात एवं खदान विबाग की तरफ से जारी प्रेस विज्ञप्ति के जरिए जानकारी दी गई है। यहां उल्लेखनीय है कि उक्त खदानों की नीलामी के लिए पहले मुख्यमंत्री नवीन पटनायक की अध्यक्षता में एक उच्च स्तरीय कमेटी के अनुमोदन के बाद इस्पात एवं खदान विभाग की तरफ से यह विज्ञप्ति प्रकाशित की गई है।

गौरतलब है कि केन्द्र में मोदी सरकार आने के बाद 2015 में खदान कानून में संशोधन कर सभी खदानों की नीलामी करने का निर्णय लिया था। 2020 मार्च 31 तारीख तक देश में 329 खदानों की लीज अवधि खत्म हो रही है। इसमें से ओडिशा की 24 खदानें हैं। यहां उल्लेखनीय है कि राज्य सरकार पहले ही दो क्रोमाइट खदान के लिए विज्ञप्ति प्रकाशित कर चुकी है और ओडिशा खदान निगम की क्रोमाइट खदान को टाटा स्टील के लिए रखा गया है।

Durga Puja 2019: कहीं सजा है नेपाल का जानकी मंदिर तो कहीं बाहुबली का आलीशान महल

 

 HRTC के 7000 कर्मियों की बल्ले-बल्ले दीवाली में मिलेगा ये खास तोहफा

 

Posted By: Babita kashyap

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप