संसू, भुवनेश्वर : राजधानी में चल रहे विभिन्न बार में अनैतिक कार्यकलाप होने की शिकायत मिलने के बाद कमिश्नरेट पुलिस ने 6 बार का लाइसेंस रद करने की कवायद में जुटी है। पुलिस के इस कदम का बार एसोसिएशन ऑफ ओडिशा ने विरोध किया है और प्रशासन को ही बार में होने वाले अनैतिक कार्यो के लिए जिम्मेदार ठहराया है। बार एसोसिएशन का आरोप है कि अप्रैल महीने से लाईसेंस नवीकरण के लिए आवेदन किया गया है मगर अब तक इस पर कार्रवाई नहीं हो रही है। कोई न कोई बहाना दिखाकर लाइसेंस नवीकरण के मार्ग में बाधा डाली जा रही है। अब हमारे लाइसेंस को जब नवीकरण नहीं किया जा रहा है तो हम पर गैरकानूनी बार चलाने का आरोप कहां तक उचित है। ऊपर से पुलिस बार पर छापेमारी कर ही है। एसोसिएसन का कहना है कि पुलिस सही मायने में चल रहे गैरकानूनी बार पर कोई कार्रवाई नहीं कर रही है जबकि लाइसेंसी उन बार को निशाना बनाया जा रहा है जिनके लाइसेंस नवीकरण का आवेदन अप्रैल में ही कर दिया गया है। बार एसोसिएसन का कहना है कि राजधानी में कई डांस बार चल रहे हैं पर पुलिस उन पर छापा नहीं मारती है। हम सालाना 13 लाख से अधिक का राजस्व दे रहे हैं बावजूद इसके हम पर सरकारी छापा डाला जा रहा है। उल्लेखनीय है कि पिछले दिनों कमिश्नरेट पुलिस ने 6 बार का लाइसेंस रद्द करन के लिए आबकारी विभाग के पत्र लिखा था।

Posted By: Jagran