जासं, भुवनेश्वर : ओडिशा में उदला वन विभाग के कर्मचारियों ने विरल किस्म के जंतु वज्रकाप्ता (पंगोलीन) की खाल का चोरी-छिपे कारोबार करने वाले एक गिरोह का पर्दाफाश किया है। टीम ने इस गिरोह के 6 सदस्यों को गिरफ्तार करने के साथ वज्रकाप्ता की खाल एवं दो बाइक को जब्त किया है।

बज्रकाप्ता खाल बिक्री होने की सूचना मिलने के बाद वन विभाग की टीम ने जाल बिछाया। वनकर्मी ग्राहक बनकर उदला ब्लॉक के बालीछत्रा गांव पहुंचे और वज्रकाप्ता खाल तस्करों से मोलभाव करना शुरू किया। इसी बीच गांव में पहले से ही घात लगाए वनकर्मियों की अन्य एक टीम ने तीन तस्करों को दबोचकर खाल जब्त किया। आरोपितों क्षेत्रीयं दुगुधा गांव का निशीकांत जेना, कुटली गांव का सुदाम खंडेई तथा सोनपोखरी गांव का सुकुल टुडू शामिल हैं।

इसी तरह वन कर्मियों ने उदला-बारीपदा मार्ग पर वृंदागड़ी चौक के पास देर रात को वज्रकाप्ता की एक बड़ी खाल के साथ तीन कारोबारियों को गिरफ्तार किया है। आरोपितों में कुंडाबाई गांव का गुरुचरण बिधाणी, खड़िकासोल गांव का रवि पात्र तथा बीसीपुर गांव का प्रशांत कुमार मिश्र शामिल है। इनके पास से दो बाइक जब्त की गई हैं। इन सभी को न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया गया है।

उल्लेखनीय है कि बीते साल सात दिसंबर को उदला में वज्रकाप्ता की खाल बेचते क्राइमब्रांच, भुवनेश्वर की टीम ने चार कारोबारियों को गिरफ्तार किया था। सिमलीपाल अभयारण्य के समीप आदिवासी क्षेत्र कप्तीपदा उपखंड है। ऐसे में अभयारण्य से वज्रकाप्ता खाल की तस्करी में एक बड़ा रैकेट काम करने का अनुमान किया जा रहा है।

वनकर्मियों पर हमलाकांड में मुख्य आरोपित गिरफ्तार

कटक जिले के खुंटुणी इलाके में लकड़ी चोरी रोकने गए वन कर्मचारियों पर हुए जानलेवा हमला के मामले में पुलिस ने मुख्य आरोपित को गिरफ्तार कर उसके पास से भारी मात्रा में लकड़ी जब्त किया है।

खुटुणी थाना क्षेत्र के महालक्ष्मीपुर गांव में एक व्यक्ति के घर में चोरी की लकडी होने की सूचना मिलने पर वनकर्मियों ने वहां छापेमारी की थी। इस दौरान आरोपित हृदानंद बेहरा एवं उसके परिजनों ने वन विभाग की गाड़ी में तोड़फोड़ करने के साथ कर्मचारियों पर जानलेवा हमला बोल दिया था। इस हमले में रेंजर सहित 4 कर्मचारी घायल हुए थे। वन कर्मचारियों ं द्वारा थाने में शिकायत दर्ज कराए जाने के बाद पुलिस ने आरोपित ह्रदानंद को गिरफ्तार कर न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

Posted By: Jagran

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप