भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने शुक्रवार को ओडिशा दमकल सेवा विभाग के आन लाइन पोर्टल का विमोचन किया है। ऑनलाइन मोड के जरिए विभिन्न वर्ग की इमारतों को दमकल सुरक्षा प्रमाणपत्र प्रदान करने की दिशा में उपयोगी साबित होगा। इसके सात ही आन लाइन मोड में लोगों के लिए और 8 सेवा उपलब्ध की जाएगी। इस साल 2 अक्टूबर तक अन्य सभी सेवा को ऑनलाइन में शामिल करने के लिए मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने दमकल विभाग को निर्देश दिया है। 

ऑनलाइन प्रक्रिया में विभिन्न वर्ग के अग्नि सुरक्षा प्रमाणपत्र प्रदान करने के लिए ओडिशा दमकल सेवा आनलाइन पोर्टल को विमोचन किया गया है। इस पोर्टल का विमोचन करने के बाद खुशी जाहिर करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि इससे संपृक्त विभाग का कौशल बढ़ेगा। विभाग में ट्रासपरेंसी आएगी एवं सही समय पर कार्य हो पाएगा। फाइव टी के अधीन यह सेवा काम करेगी। 

 इस पोर्टल के कार्यकारी होने से बड़ी बड़ी इमारतें, मल्टीप्लेक्स, शापिंग माल एवं क्लिनिकल एस्टाबिलिसमेंट ऑनलाइन के जरिए दमकल सुरक्षा प्रमाणपत्र दिया जाएगा। संपृक्त विभाग से संबन्धित अन्य सभी सेवा 2 अक्टूबर तक ऑनलाइन मोड में शुरु कर दी जाएगी। इसके साथ ही कोरोना वायरस के भय के बीच चक्रवात एम्‍फन से प्रभावित पश्चिम बंगाल में राहत बचाव कार्य करने वाले दमकल विभाग के कर्मचारियों की भी मुख्यमंत्री ने सराहना की है। 

 मुख्यमंत्री ने कहा है कि कोरोना से संक्रमित होकर प्लाजमा दान करने के लिए आगे आकर दमकल कर्मचारियों ने मानवीयता का परिचय दिया है। लोगों की आवश्यकता को ध्यान में रखते हुए ओडिशा दमकल विभाग तकनीकी अपना रहा है। इससे लोगों को सेवा मुहैया करने के क्षेत्र में बदलाव आएगा। इस पोर्टल विमोचन के समय मंत्री कैप्टन दिव्य शंकर मिश्र, फाइव टी सचिव वी.के.पांडियन, मुख्य सचिव असीत त्रिपाठी, दमकल विभाग के डीजी, आईजी फायर सर्विस, विकास कमिश्नर प्रमुख उपस्थित थे।

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस