भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। Odisha Crime News: ओडिशा में दुष्कर्म के दो आरोपियों को फांसी की सजा दी गई है। जगतसिंहपुर पॉक्सो कोर्ट ने नाबालिग से दुष्कर्म व हत्या के मामले में 2 आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई है। ये पहला मामला होगा जिसमें कोर्ट की ओर से इन दो आरोपियों को ऐसी सजा सुनाई गई। 8 साल के बाद इस मामले में कोर्ट ने अपना फाइनल फैसला सुनाया, साल 2014 में हुई वारदात के बाद से अदालत में केस चल रहा था। 

साल 2014 में इस सामूहिक दुष्कर्म को कुल चार लोगों ने मिलकर अंजाम दिया था। जिन दो आरोपियों को फांसी की सजा सुनाई गई उनके नाम सेक आसिफ और सेक अकील। इसी मामले में दो अन्य भी आरोपी थे मगर साक्ष्य के अभाव में उन दोनों को बरी कर दिया गया। कोर्ट में सुनाए गए इस फैसले के बाद कुछ देर के लिए तो सन्नाटा पसर गया, अदालत में मौजूद हर कोई एक दूसरे का चेहरा देखने लगा। वहीं पीड़ित बच्ची के परिजन बोले कि इस तरह के हैवानों को ऐसी ही सजा मिलनी चाहिए थी, अब उनकी बच्ची की आत्मा को शांति मिलेगी। वो इतने सालों से न्याय के लिए अदालत के दरवाजे पर आ रहे थे। अब कोर्ट ने सही फैसला सुनाया।

मालूम हो कि तिर्तोल थाना क्षेत्र में 2014 में घटना हुई थी। चॉकलेट लेकर लौटते वक्त आरोपियों ने 8 साल की नाबालिग को उठा लिया और दुष्कर्म करने के बाद बच्ची की हत्या कर दी थी। इस मामले में केस दर्ज करके पुलिस ने सुनवाई शुरु की थी, कोर्ट ने मामले से जुड़े कुल 27 गवाहों ने अपनी गवाही दी थी। उसके बाद कोर्ट ने फैसला सुनाया।

भाजपा नेता का अपहरण, पुलिस ने देर रात को किया रेस्क्यू 

भाजपा के अपहृत नेता दिलीप कुमार सेनापति को पुलिस ने छुड़ा लिया है। उनके हाथ एवं पैर में चोट लगी है। दिलीप को पद्मपुर मेडिकल में भर्ती किया गया है। पुलिस इस संदर्भ में एक मामला दर्ज कर घटना की छानबीन शुरू की है। 

जानकारी के मुताबिक सोमवार शाम को पद्मपुर विधानसभा क्षेत्र के झारबंध ब्लाक गोठूगुड़ा पंचायत सनदादर चौक से दिलीप का अपहरण करने का का आरोप सामने आया था। उन्हें लांजीगड़ के बीजद विधायक प्रदीप केशरी एवं उनके सहयोगियों ने बंदूक दिखाकर दो कार में बिठाकर उनका अपहरण करने का आरोप हुआ था। इस संबन्ध में झारबंध भाजपा के मंडल अध्यक्ष मिलन पांडेय ने थाने में शिकायत दर्ज करायी। इसके बाद रात करीब 11 बजे गंभीर हालत में भाजपा नेता को पुलिस ने रेस्क्यू किया। उनके शरीर के विभिन्न हिस्सों में गंभीर चोटें आई हैं। 

पदमपुर से भाजपा प्रत्याशी प्रदीप पुरोहित ने कहा है कि झारबंध प्रखंड के डंगुरिचढ़ा गांव में बीजद कार्यकर्ता पैसे बांट रहे थे। भारतीय जनता पार्टी के कुछ कार्यकर्ता और स्थानीय लोगों ने इसका विरोध किया। बाद में पुलिस को सूचना दी गई। पुलिस पहुंची और पैसे बांट रहे बीजद कार्यकर्ताओं को थाने ले गई।

इसके बाद लांजीगढ़ बीजद के विधायक प्रदीप दिशारी ने अपने सहयोगियों को लेकर भाजपा कार्यकर्ता दिलीप कुमार सेनापति को बंदूक दिखाकर अपहरण कर लिया। उसे बुरी तरह पीटा और छोड़ दिया। चारों ओर बीजू जनता दल के कार्यकर्ताओं का आतंक है। इस घटना को लेकर न तो विधायक प्रदीप दिशारी और न ही पुलिस की कोई प्रतिक्रिया मिल सकी है।

Edited By: Vinay Kumar Tiwari

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट