भुवनेश्वर, जेएनएन। कोरोना वायरस के विस्तार को रोकने के लिए जारी लॉकडाउन के दौरान लोगों की कमाई ठप होने के कारण मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने आज निजी विद्यालयों को अप्रैल से जून महीने तक फीस को कम करने या मोहलत देने के लिए निर्देश दियेे है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने  शुक्रवार को  ट्वीट करके यह निर्देश दिया है। उन्होंने कहा है कि लॉकडाउन के दौरान संस्थानों के बंद होने के कारण लोगों की आय प्रभावित हुई है। ऐसी संकट की घड़ी में लोगों के साथ सहानुभूति दिखाते हुए निजी शैक्षणिक संस्थान अप्रैल से जून तक की फीस में कमी करें या मोहलत प्रदान करें। 

उल्लेखनीय है कि राज्य में लॉकडाउन की अवधि बढ़ाकर 30 अप्रैल तक कर दिया गया है और शैक्षणिक संस्थानों को 17 जून तक बंद करने का निर्देश दिया गया है। लाकडाउन की अवधि बढ़ाने वाला ओडिशा पहला राज्य है। इसके साथ ही फीस कम करने या मोहलत देने के मामले में यह बड़ा कदम उठाया है।

दी जाएगी ऑनलाइन शिक्षा 

कोरोना वायरस के चलते ओडिशा में कक्षा 9वीं व 10वीं में पास होने वाले छात्र-छात्रा अब ऑनलाइन पढ़ाई करेंगे। ये जानकारी ओडिशा के शिक्षा मंत्री समीर रंजन दास ने दी है। मंत्री का कहना है कि इस वर्ष 9वीं व 10वीं कक्षा में पास होने वाले छात्र-छात्राओं को यह शिक्षा दी जाएगी। ये प्रकिया 14 अप्रैल से शुरु हो जाएगी। 

ये शिक्षा दीक्षा ऐप के द़वारा दी जाएगी। जिन छात्र-छात्राओं के पास कम्प्यूटर है उनके लिय तो आसान होगा लेकिन जिनके पास ये सुविधा नहीं है उन्‍हें परेशानी हो सकती है। स्‍कूल के शिक्षक शिक्षिकाएं ही छात्र-छात्राओं को गाइड करेंगे। 

Maharashtra: वधावन परिवार के लॉकडाउन तोड़ने पर गृहमंत्री देशमुख ने की महाराष्ट्र सचिव पर कार्रवाई

 महाराष्ट्र गृह विभाग ने दिया मुंबई-पुणे की पांच जेलों को बंद करने का आदेश

 

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस