भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। ओडिशा में कालाहांडी जिले के महालिंग सनसाइन पब्लिक स्कूल अध्यक्ष ममिता मेहेर हत्या मामले को लेकर राजनीतिक सरगर्मी थमने का नाम नहीं ले रही है। घटना के मुख्य आरोपित कहे जाने वाले स्कूल के अध्यक्ष गोविंद साहू व उसके सहयोगी राधे की गिरफ्तारी के बाद भी राजनीति कम नहीं हो रही है। गोविंद साहू के साथ अच्छा संपर्क रखने वाले गृह राज्य मंत्री दिव्यशंकर मिश्र के इस्तीफा व गिरफ्तारी की मांग के साथ ही मामले की जांच सीबीआइ से कराने की मांग विरोधी दल कर रहे हैं। भुवनेश्वर से लेकर भवानीपाटना तक मंत्री दिव्यशंकर के खिलाफ नारेबाजी हो रही है। सैकड़ों भाजपा कार्यकर्ता जगह जगह विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इस दौरान कई कार्यकर्ताओं के हिरासत में लिए जाने की भी खबर है।

इसी क्रम में शनिवार को भाजपा महिला मोर्चा की तरफ से राजधानी भुवनेश्वर में विशाल विरोध प्रदर्शन किया गया। भाजपा महिला मोर्चा के सदस्य राज्य पार्टी कार्यालय से निकलकर नवीन निवास घेराव करने के लिए आगे बढ़ ही रहे थे कि शिशु भवन चौक के पास पुलिस ने उन्हें रोक दिया। भाजपा के विरोध प्रदर्शन को देखते हुए नवीन निवास से लेकर शिशु भवन चौक तक 22 प्लाटुन पुलिस बल तैनात किया गया था। हालांकि भाजपा महिला कार्यकर्ता दो बैरिकेड को तोड़कर तीसरे बैरिकेड के पास पहुंच गई। तीसरे बैरिकेड के पास पहुंच गए। ऐसे में पुलिस के साथ महिला कार्यकर्ताओं की धक्कामुक्की भी हुई है। दोनों पक्ष से धक्कामुक्की होने के बाद भाजपा महिला मोर्चा के कार्यकर्ता वहीं सड़क पर धरने पर बैठ गई हैं।

भाजपा महिला मोर्चा की कार्यकर्ताओं ने कहा है कि जांच में यदि मंत्री दिव्यशंकर मिश्र का नाम आता है तो फिर उन्हें पूछताछ के लिए क्यों नहीं बुलाया जा रहा है। जिस स्कूल की प्रधानशिक्षिका को जलाकर मार दिया जाता है, उस स्कूल के बच्चे कितने सुरक्षित होंगे, यह अपने आप में सवाल है। इन सबके बावजूद राज्य सरकार चुप बैठी है। 21 साल के शासन में नवीन सरकार अहंकारी हो गई है। केवल राजधानी भुवनेश्वर ही नहीं बल्कि प्रदेश के अन्य जिलों में भी मंत्री दिव्य शंकर मिश्र को गिरफ्तार करने की मांग की जा रही है। भाजपा युवा मोर्चा की तरफ से भवानीपाटना स्थित एसपी कार्यालय के सामने विरोध प्रदर्शन किया गया है। 

Edited By: Sachin Kumar Mishra