भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। राज्य में पिछले 3 दिनों तक हुई भारी बारिश के बाद बंगोप सागर में और एक कम दबाव का क्षेत्र बन रहा है। 18 सितंबर को उत्तर ओडिशा तट पर और एक कम दबाव का क्षेत्र बनने की संभावना है। इसके प्रभाव से राज्य में बारिश का परिमाण बढ़ने का पूर्वानुमान क्षेत्रीय मौसम विभाग ने लगाया है। खासकर उत्तर ओडिशा के बालेश्वर, भद्रक एवं मयूरभंज जिले में भारी बारिश को लेकर मौसम विभाग ने पीली चेतावनी जारी की है। इसके साथ ही मलकानगिरी एवं कोरापुट जिले में भी बारिश होने की जानकारी क्षेत्रीय मौसम विभाग ने दी है। हालांकि इस कम दबाव के क्षेत्र का कितना प्रभाव होगा वह अभी तक स्पष्ट नहीं हुआ है।

9 जिलों में स्वभाविक से कम बारिश

वहीं दूसरी तरफ लगातार तीन दिनों तक राज्य में हुई मूसलाधार बारिश के बाद भी प्रदेश के 9 जिलों में स्वभाविक से कम बारिश हुई है। मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक 1 जून से 15 सितंबर तक राज्य में 932.5 मिलीमीटर बारिश रिकॉर्ड की गई है। 19 जिलों में स्वभाविक बारिश हुई है जबकि 2 जिले पुरी एवं जगतसिंहपुर में स्वभाविक से काफी अधिक बारिश हुई है‌। केवल सितंबर महीने में स्वभाविक से 104% अधिक बारिश होने की जानकारी स्थानीय मौसम विभाग की तरफ से दी गई है।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक मौसमी सक्रिय रहने से आगामी 24 घंटे में ओडिशा में हल्की से मध्यम बारिश होने की उम्मीद है। ‌17 सितंबर को उत्तरबंगोंप सागर में और एक कम दबाव का क्षेत्र बनने जा रहा है जिसके प्रभाव से 18 सितंबर को मयूरभंज, भद्रक, बालेश्वर एवं 19 सितंबर को तटीय ओडिशा में बारिश होगी।

मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक इतनी बारिश होने के बावजूद अभी तक 9 जिले में स्वभाविक से कम बारिश हुई है। जगतसिंहपुर एवं पुरी जिले में स्वभाविक से अधिक बारिश हुई है जबकि 19 जिले में स्वभाविक बारिश हुई है। सितंबर महीने में अभी तक कुल 271.4 मिलीमीटर बारिश हुई है जो कि स्वभाविक बारिश 132.9 मिलीमीटर से काफी अधिक है।

Edited By: Babita Kashyap