भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। Make in Odisha Conclave 2022: ओडिशा की राजधानी भुवनेश्वर स्थित जनता मैदान में देश-विदेश के उद्योगपतियों का बहुप्रतीक्षित महासम्मेलन मेक इन ओडिशा कान्क्लेव 2022 शुरू हो गया है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने इस व्यापार मेले का उद्घाटन किया। इस अवसर पर उद्योग मंत्री प्रताप केशरी देव सहित जापान, जर्मनी, नार्वे और नेपाल के राजदूत व राज्य सरकार के वरिष्ठ अधिकारी अतिथि के रूप में उपस्थित थे। कटक और भुवनेश्वर के महापौर भी अतिथि के रूप में उद्घाटन समारोह में शामिल हुए।

सौ से अधिक उद्योगपति होंगे शामिल

मुख्य सचिव सुरेश चंद्र महापात्र, विकास आयुक्त प्रदीप जेना, उद्योग सचिव हेमंत शर्मा और फाइव टी सचिव वीके पांडियन मंच पर मुख्यमंत्री के साथ रहे। इस महासम्मेलन में देश-विदेश के 100 से अधिक उद्योगपतियों के शामिल होने का कार्यक्रम है। मेक इन ओडिशा कान्क्लेव के तीसरे संस्करण में उम्मीद है कि ओडिशा में छह लाख करोड़ से अधिक के निवेश प्रस्ताव आएंगे। राज्य सरकार को उम्मीद है कि इससे पहले 2016 और 2018 में हुए दो सम्मेलनों में आए कुल निवेश प्रस्तावों की तुलना में इस बार अधिक निवेश प्रस्ताव आएंगे। मेक इन ओडिशा में देश-विदेश के 100 से ज्यादा उद्योगपति हिस्सा ले रहे हैं। कार्यक्रम सात प्रमुख क्षेत्रों पर केंद्रित होगा। यह कार्यक्रम चार दिसंबर तक चलेगा। धातु और खनिज, पेट्रोकेमिकल्स, कपड़ा, खाद्य प्रसंस्करण, नवीकरणीय ऊर्जा, पर्यटन और आईटी क्षेत्र अधिक केंद्रित हैं। इसी तरह मेक इन ओडिशा में इस बार जापान, नार्वे और जर्मनी के कंट्री पार्टनर हैं, जबकि मित्तल, बिड़ला, वेदांता, जिंदल कंपनी ग्रुप जैसी बड़ी कंपनियों के प्रमुख इसमें हिस्सा लेंगे।

1600 से अधिक लोगों ने कराया पंजीकरण

मेक इन ओडिशा में भाग लेने के लिए व्यापार जगत के प्रमुख लोगों में आर्सेलर मित्तल के प्रबंध निदेशक एलएन मित्तल, आदित्य बिड़ला समूह के अध्यक्ष कुमार मंगलम, बिड़ला, वेदांत रिसोर्सेज लिमिटेड के अध्यक्ष अनिल अग्रवाल, जेएसडब्ल्यू समूह के अध्यक्ष सजन जिंदल, जेएसपीएल के अध्यक्ष नवीन जिंदल, टाटा स्टील के सीईओ टीवी नरेंद्रन आदि शामिल हैं। इसके साथ ही जापान, नार्वे और जर्मनी के राजदूत भी इस कार्यक्रम में शिरकत किए हैं। अब तक सम्मेलन में भाग लेने के लिए 11600 से अधिक लोगों ने पंजीकरण कराया है। सम्मेलन में कुल 38 कार्यक्रम और 124 वक्ता होंगे। राज्य सरकार के बाईस विभाग सम्मेलन के सफल क्रियान्वयन के लिए कार्य कर रहे हैं। मेक इन ओडिशा पोर्टल में प्रतिनिधियों और प्रतिभागियों के लिए उपलब्ध सत्रों, विषयगत सत्रों, क्षेत्र-विशिष्ट सत्रों और वक्ताओं का विवरण उपलब्ध किया गया है। 

यह भी पढ़ेंः रिश्वत लेने के आरोप में एसीबी ने दो निकाय अधिकारियों को दबोचा

Edited By: Sachin Kumar Mishra

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट