संसू भुवनेश्वर : आम चुनाव के दौरान सूबे में में जगह-जगह हो रही हिसा को साजिश बताते हुए केंद्रीय पेट्रोलियम मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने कहा है कि बीजद लोकतंत्र की आवाज दबाने के लिए षड़यंत्र कर रहा है। लेकिन बीजद चाहे कुछ भी करे राज्य की जनता परिवर्तन का मूड बना चुकी है। प्रदेश में कई जगह पर हुई हिसा की घटनाएं इस ओर इशारा कर रही हैं।

प्रधान ने कहा कि दूरदराज की तो बात छोड़ दीजिए राजधानी भुवनेश्वर में विरोधियों पर हमला किया जा रहा है। भाजपा की लोकसभा प्रत्याशी अपराजिता षाड़ंगी सहित विधानसभा प्रत्याशी जगन्नाथ पटनायक पर शासक दल के कार्यकर्ताओं द्वारा जिस तरह से जगह जगह हंगामा किया जा रहा है वह बताता है कि बीजद में निराशा फैल गई है। शासक दल को लगता है कि वह चुनाव हारने वाला है अत: अपने राजनीतिक प्रतिद्वंदियों पर हमला किया जा रहा है। प्रधान ने कहा कि जटणी में भाजपा नेता मंगुली प्रधान की हत्या इसी की एक कड़ी मात्र है। चुनाव आयोग भी इस मामले में शासक दल के दवाब में काम करता दिख रहा है। केंद्रीय मंत्री ने कहा कि अगर चुनावी हिसा पर आयोग सख्त रवैया नहीं अपनाएगा तो आने वाले दिनों में बीजद की गुंडागर्दी और बढ़ेगी। उन्होने शासक दल पर गंभीर आरोप लगाते हुए कहा कि बीजद अपने विरोधियों को डरा धमका कर लोकतंत्र की आवाज दबाने का प्रयास कर रहा है।

Posted By: Jagran