भुवनेश्वर, जेएनएन। एससीबी मेडिकल को अंतरराष्ट्रीय अस्पताल में तब्दील करने के लिए कार्य आगामी मार्च महीने से शुरु होगा। ऐसे में जिला प्रशासन की ओर से जमीन अधिग्रहण का कार्य जारी है। दूसरे पड़ाव का अभियान बुधवार को चला। जिस के रानिहाट जोबरा इलाके में मौजूद 10 मंदिर और 4क्लब को तोड़ा गया है। हालांकि इसको लेकर दिन भर स्थानीय लोगों के बीच असंतोष देखने को मिला। 

कुछ जगहों पर भी लोग उसका विरोध करते नजर आए। लेकिन बाद में जिला प्रशासन के अधिकारी लोगों को समझा बुझाने के पश्चात यह कार्य संपन्न किया गया। सुबह-सुबह लोगों ने मंदिरों को खोलकर अंदर से मूर्ति और तमाम चीजें निकाल मंदिर को खाली किया। फिर जिला प्रशासन की ओर से बुलडोजर चलाया गया। दिन भर चले इस अभियान के तहत तारिणी मंदिर, अखंडलमानी मंदिर, श्रीनाथ मंदिर, गणेश मंदिर और अन्य 3 शिव मंदिर को बुलडोजर के द्वारा जमीनदोष किया गया। इसके अलावा रानीहाट जोबरा के बीच मौजूद 4 क्लब पूरी तरह से तोड़कर जमीन में मिटा दिया गया। 

जोबरा इलाकों में मंदिर तोड़े जाने के समय काफी संख्या में स्थानीय लोग व श्रद्धालुओं का जमावड़ा वह देखने को मिला। लोगों के मन में इसको लेकर काफी असंतोष एवं दुख छाया रहा। जबरा इलाके के प्रकाश चंद्र दास के मुताबिक इस इलाके में भी मौजूद थे।

गौरतलब है कि ओडिशा के सबसे बड़े मेडिकल कॉलेज श्रीराम चन्द्र भंज मेडिकल कालेज एवं अस्पताल को अंतरराष्ट्रीय स्तर का बनाने के लिए मुख्यमंत्री पटनायक द्वारा घोषणा के बाद जमीन अधिग्रहण का कार्य शुरु कर दिया गया था। लोगों को जगह खाली करने के बाद मुआवजा दिया गया था। एससीबी के अंतरराष्ट्रीय स्तर का अस्पताल बन जाने के बाद निश्चित तौर पर इसका लाभ केवल स्थानीय लोगों को ही नही बल्कि पूरे देश के लोगों को मिलेगा।

Maharashtra: नागपाड़ा में सड़क किनारे पड़े शख्‍स ने चबा डाली ट्रैफिक कांस्टेबल की अंगुली

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस