भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। Odisha Rain update: पश्चिम मध्य बंगाल की खाड़ी में बना निम्न दबाव का क्षेत्र अब कमजोर हो गया है। नतीजतन, राज्य में वर्षा की मात्रा में कमी आई है। हालांकि, कम दबाव से जुड़े चक्रवात आंध्र तट पर अभी भी सक्रिय है। इसके साथ ही मानसूनी निम्न दबाव प्रणाली भी सक्रिय है।

क्‍या कहना है मौसम विभाग का 

दो मौसम प्रणालियों के प्रभाव से शुक्रवार कुछ जिलों में हल्का से मध्यम वर्षा होने की संभावना है। हालांकि क्षेत्रीय मौसम विभाग ने इस दौरान विशेष रूप से उत्तर, तटीय और आंतरिक ओडिशा में भारी वर्षा की भविष्यवाणी की है। मौसम विभाग ने कहा है कि 7 अक्टूबर से बारिश की मात्रा कम हो जाएगी।

हालांकि मौसम विभाग ने गुरुवार सुबह के समय भारी वर्षा की चेतावनी जारी की थी, जिसका प्रभाव सुबह के समय देखने को मिला है। प्रदेश के 16 जिलों में आज सुबह के समय रुक-रुककर वर्षा हुई है। हालांकि मौसम केंद्र ने गंजाम, गजपति और पुरी जिलों में भारी वर्षा को लेकर अलर्ट जारी किया है। शुक्रवार से प्रदेश में वर्षा का परिमाण कम होने की सम्भावना है।

इन जिलों के लिए जारी की गई है चेतावनी

बालेश्वर, भद्रक, केंद्रापड़ा, कटक, जगतसिंहपुर, खुर्दा, पुरी, नयागढ़, गंजाम, गजपति, रायगडा, कोरापुट, मालकानगिरी, नवरंगपुर, अनुगुल और ढेंकनाल जिलों में 70 से 110 मिमी वर्षा होने का अनुमान मौसम विभाग ने किया है।

इसी तरह से मौसम विभाग ने आज सुबह साढ़े आठ बजे से 7 अक्टूबर सुबह आठ बजे तक गंजाम, गजपति और पुरी जिले में भारी वर्षा की चेतावनी जारी की है। पिछले 24 घंटों में राज्य में 24.9 मिमी वर्षा रिकॉर्ड की गई है जो सामान्य वर्षा का 329 प्रतिशत है। मौसम विज्ञान केंद्र ने कहा कि गंजाम जिले में अधिकतम 71.6 मिमी वर्षा दर्ज की गई है।

यह भी पढ़ें-

MP Weather Update: मध्‍य प्रदेश के अधिकांश जिलों में हो रही है बारिश, मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट

Mumbai Crime: मुंबई के कुर्ला इलाके में नाले से मिला महिला का शव, बोरी में बांधकर फेंका गया था

Edited By: Babita Kashyap

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट