भुवनेश्वर, जेएनएन। पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी की अस्थियां गुरुवार को श्रीधाम क्षेत्र पुरी स्थित महोदधि (समुद्र) में विसर्जित कर दी गई। इस दौरान राजधानी भुवनेश्वर समेत श्रीधामक्षेत्र की धरती अटल बिहारी वाजपेयी, अमर रहें के नारों से गूंज उठी। इससे पूर्व अटलजी का अस्थि कलश फूलों से सजे एक वाहन पर रखकर गुरुवार सुबह करीब 9:40 बजे राजधानी के यूनिट-9 के श्रिया चौक स्थित भारतीय जनता पार्टी के कार्यालय से पुरी के लिए रवाना हुआ। उक्त वाहन पर केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान व प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बसंत पंड़ा समेत पार्टी के अन्य शीर्ष नेता सवार थे।

अस्थि कलश यात्रा राजमहल चौक, उत्तरा चौक एवं पिपली, दांडमुकुंदपुर, साक्षीगोपाल, चंदनपुर होते हुए अठरनला पहुंची। जहां पर पुरी के लोग ने अपने प्रिय नेता को भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित दी। इसके बाद यह यात्रा महोदधि (समुद्र) के किनारे पहुंची। जहां पूर्व प्रधानमंत्री की अस्थियों को विसर्जित कर दिया गया। अस्थि कलश यात्रा को देखते हुए पुलिस प्रशासन की तरफ से सुरक्षा के कड़े इंतजाम किए गए थे। इससे पहले बुधवार देर शाम नई दिल्ली से पूर्व प्रधानमंत्री अटल बिहारी वाजपेयी जी का अस्थि कलश लेकर प्रदेश भाजपा अध्यक्ष बसंत पंडा राजधानी स्थित भुवनेश्वर बीजू पटनायक अंतरराष्ट्रीय एयरपोर्ट पर पहुंचे। जहां पार्टी कार्यकर्ता व पदाधिकारी पहले से ही उपस्थित थे।

इस मौके पर अटल बिहारी वाजपेयी अमर रहें के नारे से पूरा एयरपोर्ट गूंज उठा। इसके बाद अस्थि कलश पार्टी के यूनिट-9 में श्रिया चौक स्थित राज्य कार्यालय लाया गया। जहां पार्टी कार्यकर्ताओं,पदाधिकारियों समेत अन्य लोगों ने अटलजी को श्रद्धासुमन अर्पित किया। यह कार्यक्रम देर रात तक चला। यहां पर पूरी रात भजन कीर्तन चलता रहा। इस दौरान केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान, केंद्रीय मंत्री जुएल ओराम, पार्टी प्रदेश अध्यक्ष बसंत पंड़ा, समीर दे, समीर महांती, मुरली मनोहर शर्मा व उमेश खंडेलवाल के अलावा सामाजिक संगठन से जुड़े लोगों में अशोक अग्रवाल व वीरेंद्र बेताला के साथ सैकड़ों की संख्या में लोग उपस्थित थे।

पड़िया मैदान में सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा आज

पार्टी के उपाध्यक्ष समीर महांती ने बताया कि शुक्रवार को अपराह्न चार बजे से राजधानी भुवनेश्वर स्थित प्रदर्शनी पड़िया मैदान में सार्वजनिक एवं सर्वदलीय श्रद्धांजलि सभा का आयोजन किया गया है। इसमें विभिन्न राजनीतिक पाíटयों के अलावा विभिन्न सामाजिक संगठन व बुद्धिजीवियों समेत आमलोग स्वर्गीय अटल बिहारी वाजपेयी को श्रद्धांजलि देंगे।