भुवनेश्वर, संसू। ओडिशा में किसानों की समस्या के समाधान के लिए सरकार ने प्रयास तेज कर दिए हैं। इसे लेकर गठित मंत्री स्तरीय कमेटी विभिन्न किसान संगठनों के साथ बैठक कर उनकी समस्याओं को न सिर्फ सुन रही है बल्कि उनके सुझावों को भी सूचीबद्ध किया जा रहा है। वित्त मंत्री शशिभूषण बेहरा के नेतृत्व में गठित इस कमेटी ने कृषक भवन में 25 किसान संगठनों के प्रतिनिधियों के साथ बैठक कर उनकी समस्याओं पर चर्चा की है। बैठक को सकारात्मक बताते हुए वित्तमंत्री ने कहा कि सरकार किसानों की समस्या के प्रति गंभीर है।

राज्य के किसान संगठनों से व्यापक स्तर पर चर्चा की जा रही और किसान हितों की रक्षा के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। उन्होंने कहा कि राज्य के लगभग 70 फीसद किसान छोटे व नाम मात्र किसान हैं। अत: इनकी आय बढ़ाने के साथ समस्याओं को दूर करने के लिए आवश्यक कदम उठाए जाएंगे। इस बैठक में कृषि मंत्री प्रदीप महारथी, सूर्य नारायण पात्र समेत कृषि, वित्त, मत्स्य विभाग के सचिव सहित खाद्य व आपूर्ति विभाग के सचिव उपस्थित थे। उल्लेखनीय है कि राज्य में विभिन्न किसान संगठनों ने धरना-प्रदर्शन जारी रखा हुआ है।

खासकर प्रेस्टिज-प्राइस और पेंशन के मुद्दे को लेकर जिस तरह से विशाल प्रदर्शन आयोजित हुआ उसके बाद से सरकार की नींद उड़ी हुई है। राज्य सरकार की समझ में आ गया है कि किसानों की बात न सुनने का उसे खामियाजा उठाना पड़ सकता है। इसलिए मुख्यमंत्री के निर्देश पर एक मंत्री स्तरीय कमेटी का गठन किया गया है जो किसान संगठनों से मिलकर उनकी समस्या के निपटान के लिए सरकार को सुझाव देगी ।