भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। महाप्रभु श्रीजगन्नाथ जी का दर्शन करने के लिए आने वाले भक्त अब बिना किसी रुकावट के महाप्रभु का दर्शन कर पाएंगे। क्योंकि श्रीमंदिर प्रशासन ने महाप्रभु के दर्शन के लिए जो कोविड निगेटिव रिपोर्ट अनिवार्य किया था उसे 21 जनवरी से हटा दिया गया है। पुरी के जिलाधीश समर्थ वर्मा ने आज इसी संदर्भ में समीक्षा की है। जिलाधीश के साथ पुरी के एसपी, डीआईजी ने भी किस प्रकार से भक्त महाप्रभु का दर्शन कर पाएंगे, उसकी समीक्षा की है। 

  थर्मल स्‍क्रीनिंग एवं सैनिटाइजेशन के बाद प्रवेश की अनुमति

पुरी के लोगों के लिए सुबह 6 से 7 बजे तक दर्शन की व्यवस्था की गई है। सुबह 7 बजे के बाद सभी भक्त मंदिर में जाकर महाप्रभु का दर्शन कर पाएंगे। इसके लिए सेवकों के साथ भी प्रशासनिक अधिकारियों ने चर्चा की है। अनुशासित ढंग से दर्शन करने के लिए प्रशासन की तरफ से व्यापक व्यवस्था की गई है। थर्मल स्‍क्रीनिंग एवं सैनिटाइज करने के बाद सभी भक्त को मंदिर में दर्शन करने के लिए सिंहद्वार के रास्ते मंदिर में प्रवेश की अनुमति दी गई है। थर्मल स्‍क्रीनिंग में जिनका तापमान 100 फारेनाइट से अधिक होगा उन्हें दर्शन के लिए अन्दर नहीं जाने दिया जाएगा। उसी तरह से दिव्यांग एवं वरिष्ठ नागरिक के लिए विशेष व्यवस्था की गई है। 

 26 प्लाटून पुलिस बल तैनात

पुलिस प्रशासन की तरफ से भी व्यापक व्यवस्था की गई है। सुरक्षा के दृष्टिकोण से पुरी में 26 प्लाटून पुलिस बल तैनात की गई है। इसके अलावा 2 अतिरिक्त एसपी, 7 डीएसपी एवं 20 इंस्पेक्टर को सुरक्षा का दायित्व दिया गया है।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021