संसू, भुवनेश्वर : राज्य सरकार ने अनुसूचित जाति-जनजाति बहुल एवं पिछड़े जिलों में शिक्षा के विकास के लिए बड़ा फैसला लिया है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने घोषणा की है कि पिछड़े जिलों के 11 अनुदानप्राप्त गैरसरकारी कॉलेजों में आधारभूत सुविधा के लिए 1-1 करोड़ रुपये की सहायता दी जाएगी। मुख्यमंत्री ने वीडियो कांफ्रेंिसंग के जरिए इसकी घोषणा करते हुए कहा कि इससे शिक्षा के विकास को गति मिल पाएगी। जिन अनुदानप्राप्त गैरसरकारी कॉलेजों के लिए सहायता राशि दिए जाने की घोषणा की गई है उसमें संबलपुर जिले के कुचिंडा कॉलेज, सुंदरगढ़ के बणेईगढ़ कॉलेज, केंदुझर के चंपुआ स्थित चंद्रशेखर कॉलेज, आनंदपुर कॉलेज, रायगड़ा जिले के रायगड़ा स्वयंशासित कॉलेज एवं गुणुपुर कॉलेज, बालेश्वर के नीलगिरी कॉलेज, नवरंगपुर कॉलेज, कंधमाल के बालिगुड़ा आदिवासी कॉलेज तथा मयूरभंज जिले का मयूरभंज कॉलेज शामिल हैं। सरकार के इस निर्णय के अनुसार, इन अनुदानप्राप्त गैरसरकारी कॉलेजों कों सरकारी कॉलेजों की तरह सारी सुविधाएं उपलब्ध कराई जाएंगी और इससे गुणात्मक शिक्षा के स्तर में बढ़ोत्तरी होगी।

Posted By: Jagran