भुवनेश्वर, जागरण आनलाइन डेस्‍क। पुरी-कोणार्क चंद्रभागा के तट पर अस्थायी तटबांध ज्वार की मार से टूट गया है। ऐसे में चंद्रभागा के तट पर लकड़ी से एक अस्थायी बांध बनाया गया है। हालांकि, अमावस्या के दौरान इस बांध के कुछ हिस्से ज्वार से बह गए हैं। इससे पुरी कोणार्क मरीन ड्राइव रोड पर खतरा मंडराने लगा है।

आगे पूर्णिमा होने के कारण समुद्र में ज्वार-भाटा अधिक होगा। चूंकि अस्थायी तटबंध पहले ही उच्च ज्वार से टूट चुका है, ऐसे में आगामी दिनों में स्थिति और गम्भीर होने की आशंका की जा रही है। उस समय बांध कितना सुरक्षित रहेगा, अब सवाल खड़ा हो रहा है। आगामी स्थिति को ध्यान में रखते हुए समुद्र किनारे बालू के बोरे रखकर बांध की मरम्मत का काम युद्ध स्तर पर चल रहा है।

गौरतलब है कि कुछ दिन पहले यहां भारी बालू की तस्करी के कारण गार्ड की दीवार टूट गई थी। बाद में प्रशासन द्वारा अस्थाई तटबंध का निर्माण कराया गया। अब जब ज्वार आता है तो अस्थायी बालू के बोरे को समुद्र के गर्भ में समा ले रहा है। नतीजतन, स्थानीय निवासियों ने पुरी कोणार्क मरीन ड्राइव रोड पर खतरे की सम्भावना जतायी है।

बंगाल की खाड़ी में बन रहा है एक और कम दबाव का क्षेत्र

बंगाल की खाड़ी में एक और डिप्रेशन बन रहा है। ऐसे में बंगाल की खाड़ी में एक दिन बाद चक्रवात बन सकता है। क्षेत्रीय मौसम केंद्र ने 28 तारीख को बंगाल की उत्तरी खाड़ी में चक्रवात बनने की संभावना व्यक्त की है। नतीजतन, 29 से 4 तारीख के बीच तट सहित आंतरिक ओडिशा में भारी बारिश हो सकती है। इस दौरान समुंद्र अशांत रहेगा।

दशहरा पर्व पर डल सकता है खलल 

उपनगरों से तट तक हर जगह इस दौरान 70 से 110 मिमी वर्षा की उम्मीद की जा रही है। पुरी, खुर्दा, कटक, जगतसिंहपुर, केंद्रपाड़ा, जाजपुर, गंजम, गजपति, रायगढ़, कोरापुट, कालाहांडी और कंधमाल में भारी वर्षा की संभावना है।

परिणाम स्वरूप दो साल बाद सामूहिक रूप से हो रहे दशहरा पर्व में वर्षा खलल डाल सकती है। वहीं, अगले 2 दिनों तक दोपहर के बाद गरज और बज्रपात गिरने के साथ तेज बारिश होने की संभावना है। मंगलवार को 16 जिलों और 28 सितम्बर को 15 जिलों में बज्रपात गिरने की चेतावनी जारी की गई है।

यह भी पढ़ें-

ओडिशा में अब आसान होगा फिटनेस टेस्ट, RTO दफ्तर के नहीं लगाने पड़ेंगे चक्‍कर

महाराष्ट्र सरकार ने कहा- छोटे बच्चों को ज्यादा नींद की जरूरत, प्राइमरी स्‍कूलों में जल्‍द होगा बड़ा बदलाव

Edited By: Babita Kashyap

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट