भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। ओडिशा में दो विधानसभा सीट बालेश्वर सदर विधानसभा एवं तिर्तोल विधानसभा सीट पर उप चुनाव होने वाले हैं। उपचुनाव से ठीक पहले दल बदलू नेता भी सक्रिय हो गए हैं।  ऐसे में दोनों विधानसभा क्षेत्र के असंतुष्ट नेताओं को अपने खेमें में लाने के लिए भाजपा एवं बीजद का जोरदार प्रयास भी शुरु हो गया है। तिर्तोल विधानसभा सीट से पिछले एक दशक से कांग्रेस के उम्मीदवार रहने वाले राजकिशोर बेहेरा कांग्रेस छोड़कर बहुत जल्द भाजपा में शामिल होने वाले हैं तो वहीं भाजपा से भी दो बार इसी विधानसभा सीट से उम्मीदवार रहने वाले उमाकांत भोई भाजपा को छोड़ बीजद में शामिल होने की पूरी तैयार कर ली है। 

 मिली जानकारी के मुताबिक तिर्तोल विधानसभा सीट से कांग्रेस उम्मीदवार रहने वाले राजकिशोर बेहेरा बहुत जल भाजपा में शामिल होने वाले हैं। माना जा रहा है कि भाजपा उन्हें वहां से अपना उम्मीदवार बनाएगी। वहीं इससे नाराज होकर उमाकांत भोई भाजपा छोड़कर बीजद के संपर्क में आ गए हैं। भोई अपने समर्थकों के साथ बुधवार को राज्य जल संशाधन मंत्री तथा बालीकुदा विधायक रघुनंदन दास से उनके आवास पर मुलाकात की है। यहां उल्लेखनीय है कि 2019 चुनाव से पहले भाजपा छोड़कर ही रघुनंदन दास बीजद में शामिल हुए थे और वह पहली बार विधायक बनने के साथ ही मंत्री बने हैं।

 

रघुनंदन पहले भाजपा में ही थे ऐसे में उमाकांत ने उनसे संपर्क किया और उपचुनाव से पहले बीजद के शिविर में जाने की रणनीति तैयार कर ली। हालांकि उमाकांत को बीजद अपना उम्मीदवार बनाए इसकी संभावना कम है, क्योंकि तिर्तोल चुनाव क्षेत्र से दिवंगत विष्णु दास के समर्थकों की संख्या काफी अधिक है। ऐसे में सहानुभूति वोट के लिए बीजद स्व. विष्णु दास के परिवार से ही किसी सदस्य को अपना उम्मीदवार बनाती है और किसी को इस पर सभी की नजरें टिकी हुई हैं।

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस