भुवनेश्वर, जेएनएन। चक्रवाती तूफान तितली ने अब भयंकर रूप धारण कर लिया है। यह जानकारी बुधवार को स्पेशल रिलीफ कमिश्नर (एसआरसी) विष्णुपद सेठी ने दी है। उन्होंने कहा है कि चक्रवाती तूफान आगामी 18 घंटे में अति भंयकर रूप धारण कर लेगा। वर्तमान समय आज सुबह गोपालपुर बंदरगाह से 370 किमी. एवं कलिंगपटनम से 310 किमी. की दूरी पर है। 11 अक्टूबर सुबह के समय तितली स्थल भाग को स्पर्श करेगा। कलिंगपटनम एवं गोपालपुर के बीच यह स्थल भाग को स्पर्श करेगा। उन्होंने कहा है कि तितली जब स्थल भाग को स्पर्श करेगा उस समय 145 किमी. प्रति घंटे की रफ्तार से पवन चलेगी।

गंजाम, गजपति, पुरी, जगतसिंहपुर जिला में भारी से भारी बारिश होगी। अन्य तटीय जिलों में भी बारिश होगी। एसआरसी श्री सेठी ने कहा है कि तटीय जिलों में भारी से भारी बारिश होने की सम्भावना है। विभिन्न नदियों में बाढ़ आने की सम्भावना है। इसीलिए निचले इलाकों के लिए सतर्क सूचना जारी कर दी गई है।

भुवनेश्वर मौसम विभाग की तरफ से सतर्क सूचना जारी करते हुए कहा गया है कि चक्रवाती तूफान में तेज हवा में झोपड़ियां उड़ सकती हैं, पेड़ों की टहनिया टूट जाएंगी एवं पेड़ जड़ से भी उखड़कर गिर सकते हैं। बिजली एवं टेलीफोन के खम्भे क्षतिग्रस्त हो सकते हैं। समुद्र में ज्वार आने से 12 अक्टूबर तक मछुआरों को समुद्र में न जाने की हिदायत दी गई है। चक्रवाती तूफान का प्रभाव अभी से दिखने लगा है। बुधवार सुबह से ही राजधानी समेत राज्य भर में तेज हवा के साथ बारिश शुरू हो गई।

Posted By: Babita