भुवनेश्वर, जेएनएन। चक्रवात फणि से राज्य में हुई क्षति की पूर्ति के लिए केंद्र सरकार ने ओडिशा को 3338.22 करोड़ रुपये की सहायता राशि दी गई है। सोमवार को गृहमंत्री अमित शाह के नेतृत्व में हुई उच्चस्तरीय बैठक में यह निर्णय लिया गया है। केंद्र सरकार के इस निर्णय के बाद राज्य भाजपा अध्यक्ष बसंत पंडा एवं विधानसभा में विरोधी दल के नेता प्रदीप्त नायक ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी एवं गृहमंत्री अमित शाह के प्रति आभार प्रकट किया है।

चक्रवात फणि से हुई क्षति की भरपाई के लिए यह अतिरिक्त राशि प्रदान की गई है। चक्रवात फणि से हुए नुकसान से निपटने के लिए केंद्र सरकार ने इससे पहले 340 करोड़ रुपये दिया था। इसके बाद प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ओडिशा आए थे और एक हजार करोड़ रुपये की सहायता राशि देने की घोषणा की थी। बता दें कि चक्रवात फणि पिछले 3 मई को पुरी जिले में स्थल भाग से टकराया था। इसके प्रभाव से पुरी, खुर्दा, कटक, भुवनेश्वर के साथ अन्य तटीय जिलों में भारी नुकसान हुआ है।

मोदी सरकार को ओडिशा से अटूट प्रेम

प्रधान चक्रवात फणि से प्रभावित ओडिशा को केंद्र सरकार की ओर से अतिरिक्त 3338.22 करोड़ रुपये की आर्थिक सहायता राशि दी गई है। केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान ने इसे मोदी सरकार का ओडिशा के प्रति अटूट प्रेम की उपमा दी है। कहा कि यह मोदी सरकार की ओडिशा के प्रति रहने वाले अटूट प्रेम को दर्शाता है।

राशन कार्ड धारकों के लिए खुशखबरी, जल्द ही पूरे देश में लागू होने वाली है ये नयी व्यवस्था

केंद्र सरकार की यह आर्थिक सहायता लोगों को पूर्व अवस्था में लौटने में सहायक होगी। प्रधान ने कहा कि इससे पहले भी केंद्र सरकार ने राज्य को फणि से निपटने के लिए 340 करोड़ रुपये की अग्रिम सहायता राशि दी थी। प्रधानमंत्री ने खुद तूफान से प्रभावित क्षेत्रों का हवाई सर्वेक्षण किया था और एक हजार करोड़ रुपये त्वरित सहायता राशि की घोषणा की थी। केंद्र सरकार द्वारा दी गई सहायता राशि ओडिशा को पुन: अपने पैर पर खड़ा होने में सहायक साबित होगी।

ओडिशा की अन्य खबरें पढऩे के लिए यहां क्लिक करें

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप