भुवनेश्वर, जेएनएन। राज्य सरकार ने बुखार एवं फ्लू लक्षण वाले मरीजों के इलाज के लिए राजधानी भुवनेश्वर में 17 निजी अस्पतालों को अलग से क्लिनिक खोलने के लिए निर्देश दिया है। इन अस्पतालों में आमरी अस्पताल, कलिंग अस्पताल, नीलाचल अस्पताल, सनसाइन अस्पताल, स्पर्श अस्पताल, ब्लू हुइल अस्पताल, केयार अस्पताल, अश्विनी अस्पताल, भुवनेश्वर अस्पताल, बीएमआरआई इंस्टीट्यूट एण्ड नर्सिंग होम, पद्मा अस्पताल, पंडा नर्सिंगहोम, मां शक्ति अस्पताल, गैस्ट्रो किडनी केयर अस्पताल, विवेकानंद अस्पताल एवं उस्थी अस्पताल शामिल हैं।   

 राज्य स्वास्थ्य विभाग की तरफ से जारी एक निर्देशनामा में कहा गया है कि बुखार एवं फ्लू के लक्षण रहने वाले व्यक्ति का इलाज करने के लिए क्लिनिक एस्टाबिलमेंट्स एक्ट के अनुसार राज्य के सभी निजी अस्‍पतालोंं  को अलग से क्लिनिक खोलने का निर्देश दिया गया है। अब तक किसी निजी अस्पताल ने कोविड-19 के लिए अलग से क्लिनिक नहीं खोले हैं। इससे अस्पताल मे आने वाले मरीजों में कोविड-19 काा लेकर डर व्याप्त है, इससे उनमें संक्रमण की भी सम्भावना अधिक है। निजी अस्पताल जिसने अलग से क्लिनिक नहीं खोले हैं, संपृक्त निजी अस्पताल के अधीक्षक को पुन: नोटिस भेजने के लिए स्वास्थ्य विभाग की तरफ से बीएमसी कमिश्नर, जिलाधीश एवं जिला मुख्य चिकित्साधिकारी को सलाह दी गई है। 

Maharashtra: वधावन परिवार के लॉकडाउन तोड़ने पर गृहमंत्री देशमुख ने की महाराष्ट्र सचिव पर कार्रवाई

वहीं दूूसरी तरफ भुवनेश्वर कैप्टिल अस्पताल, राउरकेला आरजीएच अस्पताल के साथ अन्य जिला मुख्य अस्पताल में मौजूद अलग से क्लिनिक में इस तरह के मरीजों का इलाज किए जाने की जानकारी स्वास्थ्य विभाग की तरफ से दी गई है।

 महाराष्ट्र गृह विभाग ने दिया मुंबई-पुणे की पांच जेलों को बंद करने का आदेश

Coronavirus in Maharashtra : मुंबई के दादर में तीन नये कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि, राज्‍य में 1364 संक्रमित

 
 

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस