भुवनेश्वर, जेएनएन। बीजद सुप्रीमो तथा मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने गुरुवार को अपने मंत्रिमंडल की क्लास लगाई। इस दौरान बीजद सुप्रीमो तथा मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने अपने मंत्रियों को सीधे तौर पर लोगों की समस्या का समाधान करने के तथा उनके सुख-दुख में सहभागी बनने के लिए मंत्रियों को निर्देश दिया है। राज्य सचिवालय में हुई इस बैठक में मुख्यमंत्री ने उपरोक्त निर्देश दिया है।

अपने-अपने विभाग के कार्यालय एवं अनुष्ठानों का अचानक परिदर्शन करने को भी नवीन पटनायक ने निर्देश दिया है। उन्होंने कहा कि इससे सरकारी सेवा बेहतर होगी। दौरे के समय लोगों से मुलाकात करने लोगों की समस्या सुनने, उसका समाधान करने, सरकारी सेवा का लाभ लोगों तक पहुंचने में हो रही असुविधा पर लोगों की प्रतिक्रिया लेने की सलाह दी है।

मुख्यमंत्री ने एक बार फिर ट्रांसपरेंसी, टेक्नोलाजी, टीमव वर्क, ट्रांसफार्मेशन तथा टाइम अर्थात 5 टी पर ध्यान देने की सलाह दी है। ट्रांसपरेंसी के लिए स्वच्छता अर्थात ट्रांसपरेंसी अत्यावश्यक होने की अहमियत को दर्शाते हुए मुख्यमंत्री ने मंत्रियों को अपने विभाग का शत प्रतिशत कार्य ओड़िशा सेक्रेटेरियट वर्कफ्लो आटोमेशन सिस्टम के जरिए करने का भी निर्देश दिया है।

    यहां उल्लेखनीय है कि नवीन पटनायक ने अपनी पांचवी पारी का शुभारंभ 29 मई 2019 को किया था और इसी दिन नव गठित मंत्रिमण्डल का शपथ हुआ था। शपथ ग्रहण समारोह के बाद ही मंत्री परिषद की बैठक नवीन ने ली थी और चुनावी घोषणापत्र में किए गए वादों को पूरा करने के लिए निर्देश जारी किया था। इसके साथ ही एक महीने के बाद सभी विभाग की तरफ से क्या कार्य किए गए गए हैं, उसकी समीक्षा करने को कहा था, जिसके तहत आज यह निर्देश मुख्यमंत्री ने अपने मंत्रियों को दिया है।

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस