भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। भारतीय जनता पार्टी (BJP) के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा (JP Nadda) गुरुवार को तड़के भुवनेश्वर पहुंचे। वह भाजपा शक्ति केंद्र कार्यक्रम में भाग लेने के लिए ओडिशा पहुंचे हैं। यहां एक बड़े पैमाने पर आयोजन किया गया है।

भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष जे.पी नड्डा के भुवनेश्वर हवाईअड्डे (Bhubaneswar Airport) पर पहुंचने पर यहां उनका भव्य स्वागत किया गया। इसके बाद पार्टी नेता और कार्यकर्ताओं ने एक विशाल बाइक रैली में उनका उन्हें पार्टी कार्यालय लाए। इसके बाद जेपी नड्डा राजधानी भुवनेश्वर स्थित जनता मैदान में शक्ति केंद्र कार्यकर्ताओं सम्मेलन में भाग लिया।

जानकारी के मुताबिक जेपी नड्डा दो दिवसीय ओडिशा दिवसीय दौरे पर भुवनेश्वर पहुंचे हैं। यहां पहुंचने के बाद एक विशाल बाइक रैली में भाजपा कार्यकर्ताओं ने उन्हें भुवनेश्वर श्रीराम मंदिर होते हुए सभा स्थल पर ले गए जिसमें पार्टी के तमाम वरिष्ठ नेता शामिल थे।

गौरतलब है कि शक्ति केंद्र कार्यक्रम में प्रत्येक पंचायत से तीन कार्यकर्ता शामिल हुए हैं। जेपी नड्डा आज इन कार्यकर्ताओं के साथ चर्चा करेंगे और गुरुमंत्र देंगे। वर्ष 2024 में होने वाले आम चुनाव के लिए पार्टी की रणनीति बनाने, संगठन को मजबूत करने एवं केंद्र सरकार की जनहित योजनाओं की जानकारी लोगों को देने एवं राज्य सरकार की नाकामी को लोकों तक पहुंचाने पर जोर देंगे।

2024 का चुनावी बिगुल फूंकने पहुंचे नड्डा

भारतीय जनता पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के दौरे को लेकर माना जा रहा है कि नड्डा 2024 के चुनाव का बिगुल फूंकने के लिए यहां पहुंचे हैं। कार्यक्रम के बाद पार्टी कार्यालय में विधायक, सांसद और पार्टी पदाधिकारियों से विभिन्न मुद्दों पर वह चर्चा करेंगे। इसके बाद वह आज रात 8 बजे पुरी जाएंगे और पुरी में रात में ठहरेंगे।

शुक्रवार को वह महाप्रभु जगन्नाथ जी (Lord Jagannath) का दर्शन करेंगे। तत्पश्चात वह पुरी से भद्रक के लिए रवाना हो जाएंगे। भद्रक में दिवंगत विष्णु सेठी (Vishnu Sethi) के शोक संतप्त परिवार के सदस्यों से मुलाकात करेंगे। वहां से वह भुवनेश्वर लौटेंगे और पार्टी के वरिष्ठ नेताओं के साथ चर्चा करेंगे कि 2024 के चुनाव में उनकी भूमिका कैसी होगी।

नड्डा के ओडिशा दौरे से राजनीति सक्रिय

गौरतलब है कि H ने 2024 के चुनाव में बीजद से लड़ने का रोड मैप तैयार कर लिया है। पिछले अगस्त में पार्टी के पूर्व राष्ट्रीय अध्यक्ष और गृह मंत्री अमित शाह (Amit shah) ओडिशा दौरे पर आए थे, जबकि सितंबर की शुरुआत में पार्टी के ओडिशा प्रमुख सुनील बंसल (Suneel Bansal) यहां आए थे।

इसके बाद एक बार फिर पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष जेपी नड्डा के ओडिशा दौरे से राजनीति सक्रिय हो गई है। पार्टी के कद्दावर नेताओं के ओडिशा आने एवं जमीनी स्तर के नेताओं के साथ चर्चा करने से उनके मन में जोश भर गया है।

यहां उल्लेखनीय है कि भारतीय जनता पार्टी ने आगामी चुनाव में ओडिशा में 50 प्रतिशत सीटें हासिल करने का लक्ष्य रखा है। इसे प्रभावी बनाने के लिए तथा बीजद (BJD) को सत्ता से हटाने कि लिए भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष प्रदेश के नेताओं को गुरुमंत्र देने हेतु ओडिशा पहुंचे हैं।

Edited By: Babita Kashyap

जागरण फॉलो करें और रहे हर खबर से अपडेट