जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर : बंगाल की खाड़ी में बने कम दबाव के क्षेत्र के प्रभाव से राज्य में लगातार हो रही बारिश के चलते कुछ जिलों में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है। खासकर मलकानगिरी जिले के माथिली एवं खइरीपुट ब्लाक में बाढ़ से हालत गंभीर हो गई है। माथिली ब्लाक का जयपुर एवं मलकानगिरी से संपर्क कट गया है। इससे ब्लाक की छह पंचायतें बाहरी दुनिया से अलग थलग हो गई हैं। किआंग, सालिमी, टेमृपाली, कर्तनपाली, महुपदर, कमारपाली आदि पंचायत पानी के घेरे में हैं। वहीं, महुपदर पंचायत के माड़ीमुंडा पुल के ऊपर पांच फीट पानी बहने से छत्तीसगढ़ से संपर्क कट गया है। इधर, खइरीपुट के पास कलवर्ट पानी के तेज बहाव में बह जाने से माझीगुड़ा एवं केंदुगुड़ा के बीच संपर्क टूट गया है। पांगम नदी का जल स्तर लगातार बढ़ने से पांगम पुल के ऊपर चार फीट पानी बह रहा है। माथिली-मलकानगिरी मुख्य रास्ते पर आवागमन ठप हो गया है। इस रास्ते से होकर गुजरने वाले सैकड़ों वाहन जगह जगह फंसे हुए हैं। खतरे को देखते हुए किसी भी वाहन या व्यक्ति को पुल पार नहीं करने दिया जा रहा है।

---

अगले 24 घंटे तक राज्य में भारी बारिश होने की संभावना

भुवनेश्वर मौसम विभाग से मिली जानकारी के मुताबिक बंगाल की खाड़ी में बना कम दबाव का क्षेत्र अवपात का रूप धारण कर लिया है, जिसके प्रभाव से आगामी 24 घंटे तक राज्य के विभिन्न हिस्सों में भारी बारिश होने की संभावना है। इस समय के दौरान आसमानी बिजली गिरने के साथ तेज हवा भी चलेगी। हवा की गति लगभग 35 से 45 किमी प्रति घंटा हो सकती है।

Posted By: Jagran