जागरण संवाददाता, भुवनेश्वर : एशियन गेम्स में देश के लिए महिलाओं की सौ मीटर दौड़ में रजत पदक जीतने वाली धाविका दुती चांद को राज्य सरकार ने पुरस्कृत करने की घोषणा की है। मुख्यमंत्री नवीन पटनायक ने सोमवार को इसकी घोषणा करते हुए कहा है कि ओडिशा सरकार दुती चांद को डेढ़ करोड़ रुपये पुरस्कार स्वरूप प्रदान करेगी। दुती ने अपनी प्रतिभा की बदौलत न सिर्फ ओडिशा बल्कि पूरी दुनिया में भारत का नाम रोशन किया है। मुख्यमंत्री ने कहा है कि 20 साल सौ मीटर दौड़ में देश के लिए यह गौरव दुती चांद ने दिलाया है। इससे पहले 1998 एशियन गेम्स में ओड़िआ एथलीट रचिता पंडा मिस्त्री ने इसी वर्ग में कांस्य पदक जीता था।

मुख्यमंत्री ने कहा है कि हमें गर्व है कि वर्तमान समय में देश में महिला एवं पुरुष दोनों क्षेत्र में तेज धावक ओडिशा से हैं। उन्होंने कहा कि ओडिशा सरकार एथलेटिक्स पर विशेष ध्यान दे रही है। इसका परिणाम हमें हाल ही के दिनों में देखने को भी मिल रहा है। राज्य में युवा प्रतिभाओं की कमी नहीं है, उन्हें बस जरूरत है प्रोत्साहन देने की, जो कि हमारी सरकार कर रही है। सरकार राज्य स्तरीय एथलेटिक्स एकेडमी खोलने की योजना तैयार कर ली है जिसे बहुत जल्द लांच किया जाएगा।

----------

दुती चांद को पुरस्कार व बधाइयों का तांता

भुवनेश्वर : एशियन गेम में शानदार प्रदर्शन कर रजत पदक जीतने वाली महिला एथलीट दुती चांद पर धन वर्षा होने के साथ बधाई देने वालों का भी तांता लग गया है। ओडिशा एथलेटिक्स एसोसिएशन एवं ओडिशा ओलंपिक एसोसिएशन ने भी दुती को पुरस्कार प्रदान करने की घोषणा की है। राज्यपाल प्रो. गणेशी लाल, मुख्यमंत्री नवीन पटनायक, नेता विपक्ष नरसिंह मिश्र, केंद्रीय मंत्री धर्मेद्र प्रधान सहित अन्य हस्तियों व खेल संगठनों की ओर से दुती को शुभकामनाएं दी गई है। राज्यपाल ने दुती चांद को इस सफलता के लिए बधाई देते हुए उनके उज्जवल भविष्य की कामना की है। मुख्यमंत्री ने अपने संदेश में कहा है कि देश के लिए पदक जीतने वाली दुती ने ओड़िआवासियों सिर गर्व से ऊंचा कर दिया है। 20 साल के बाद किसी ओड़िआ एथलीट के पदक जीतने से प्रदेश में खुशी की लहर दौड़ गई है।

Posted By: Jagran