संवादसूत्र, भुवनेश्वर: राजधानी भुवनेश्वर के नयापल्ली अंतर्गत सालिया साही में बीएमसी-बीडीए की संयुक्त टीम ने गुरुवार को अतिक्रमण हटाओ अभियान चलाकर 4500 वर्ग फीट से अधिक सरकारी जमीन को मुक्त करा लिया है। इस दौरान चार एसबेस्टस के गैरकानूनी निर्माण तोड़े गए। इस दौरान अतिक्रमणकारियों ने पुलिस अधीक्षक रवि शतपथी से जो कहा वह चौंकाने वाला है। लोगों ने बताया कि 20 वर्ग फीट जगह के लिए कुछ लोगों ने 60-60 हजार रुपये में ये जगह हमे बेची है। हमें पता नहीं था कि यह सरकारी जमीन है। लोगों ने एसपी से अनुरोध किया कि उन्होंने जगह खरीदकर मकान बनाए हैं इसे मत तोडिए। एसपी ने जब जगह बेचने वाले लोगों का नाम पूछा तो ये लोग डर के मारे नाम बताने से कतराने लगे। स्थानीय लोगों का कहना है कि जमीन बेचने वाले का नाम बताने पर उन्हें जान से मार दिया जा सकता है। ऐसी स्थिति में गैरकानूनी निर्माण तोड़ने गई पुलिस टीम 7 दिन की मोहलत देकर वापस लौट गई। यहां यह बताना उचित होगा कि सालिया साही बस्ती इलाके में कुछ असामाजिक तत्व सरकारी जमीन पर जबरन कब्जा जमाकर गरीब लोगों को जमीन बेच बड़ा मुनाफा कमा रहे हैं। सालिया साही लोयला स्कूल के निकट सरकारी जमानी पर एक क्लब भी बनाया गया था जिसे टीम ने तोड़ा है। मजे की बात यह है कि इस क्लब भवन का उद्घाटन 2 महीने पहले विधायक प्रियदर्शी मिश्र एवं स्थानीय सभासद भारती ¨सह द्वारा किया गया था।

Posted By: Jagran