भुवनेश्वर, जेएनएन। भारतीय मजदूर संघ के बैनर तले शुक्रवार को आंगनबाड़ी कर्मचारी संघ ने सरकारी कर्मचारी की मान्यता देने जैसी विभिन्न मांगों को लेकर ओडिशा विधानसभा के सामने प्रदर्शन किया। इस मौके पर एक विशाल रैली का आयोजन किया गया जिसमें इन कर्मचारियों ने अपनी आवाज बुलंद की।

आंदोलनकारियों का कहना था कि आंगनबाड़ी कर्मचारी व सहायिका को न्यूनतम सुविधा से भी वंचित किया जा रहा है। जबकि राज्य में माताओं एवं शिशुओं के विकास के लिए हजारों आंगनबाड़ी कर्मी व सहायिका काम कर रही हैं। मगर, इनको न्यूनतम सुविधा से भी वंचित किया जा रहा है।

ऐसे में आंगनबाड़ी कर्मचारी एवं सहायिकाओं को सरकारी मान्यता, न्यूनतम मासिक भत्ता 18 हजार रुपये, पेंशन 3 हजार रुपये, बाजार दर के अनुसार एसएनपी दर में संशोधन, योजना के सफल क्रियान्वयन के लिए सही आधारभूमि तैयार करने, बीमा योजना में जरूरी संशोधन करने, सहायिकाओं की पदोन्नति पर लगी रोक हटाने, गांव कल्याण समिति से आंगनबाड़ी कर्मचारियों को अलग रखने आदि सुविधाएं उन्हें मिलनी चाहिए।