भुवनेश्वर, जागरण संवाददाता। राज्य के अनुसूचित जाति व जनजाति छात्र-छात्राओं (Scholarship for SC and St students) को उच्च शिक्षा के लिए प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से ओडिशा सरकार (Odisha Government) की तरफ से 50 हजार अनुसूचित जाति एवं जनजाति बच्चों को छात्रवृत्ति प्रदान की गई है। इन बच्चों के बैंक खाते में सीधे तौर पर राज्य सरकार ने छात्रवृत्ति की राशि जमा करा दी है। इसके अलावा अनुसूचित जाति व जनजाति बच्चों को शहर जैसे स्कूल मे शिक्षा प्रदान करने के लिए मुख्यमंत्री नवीन पटनायक (Naveen Patnaik) ने तीन आकांक्षा हास्टल का भी शुभारंभ किया है। इस वर्ग के छात्र-छात्राओं के लिए मौजूद 6700 हास्टल के 5.75 लाख बच्चों को मो छात्रावास कार्ड प्रदान किया गया है। 

 इसके साथ ही राज्य के विभिन्न जगहों पर 68 छात्रावास का भी मुख्यमंत्री ने लोकार्पण किया है। इन छात्रावासों के लिए 150 करोड़ रुपया खर्च किया गया है। इस अवसर पर मुख्यमंत्री ने मातृभाषा आधारित शिक्षादान संहति कार्यक्रम का भी शुभारंभ किया। वीडियो कान्फ्रेसिंग के जरिए 5टी कार्यक्रम के अधिन ​विभिन्न घोषणा करते हुए मुख्यमंत्री ने कहा है कि शिक्षा परिवार का आधार है। जनजाति भाई बहनों के बीच शिक्षा के प्रसार प्रसार के लिए हमारी सरकार ने सदैव महत्व दिया है। प्राथमिक शिक्षा के लिए मातृभाषा सबसे उत्तम है। 

 मुख्यमंत्री ने कहा कि मातृभाषा के जरिए ही बच्चे आसानी से शिक्षा ग्रहण कर पाते हैं। आज से शुरू हुए कार्यक्रम के जरिए डेढ़ लाख बच्चे सुविधा से पढ़ाई कर पाएंगे। प्राथमिक स्तर पर बच्चों को मातृभाषा में शिक्षा प्रदान करने के लिए संहति कार्यक्रम का शुभारंभ किया गया है। इससे 1.5 लाख छात्र-छात्राएं उपकृत होंगे। मुख्यमंत्री ने कहा कि जनजाति-जाति बच्चों को शहर के स्कूलों जैसी शिक्षा देने के लिए आकांक्षा योजना शुरू की गई है। इस योजना में मुख्यमंत्री ने बरहमपुर, सम्बलपुर तथा राउरकेला में तीन हास्टल का शुभारंभ किया है। प्रयास योजना में 7500 से अधिक एसटी, एससी तथा ओबीसी बच्चों के लिए कौशल विकास कार्यक्रम शुरू किया गया है। ओडिशा कौशल विकास अधिकारियों की मदद से यह कार्यक्रम शुरू किया गया है। 

 कार्यक्रम में सम्बलपुर से विभागीय मंत्री जगन्नाथ सारका ने भाग लेते हुए कहा कि इससे जनजाति, जाति छात्र आगे बढ़ने के साथ ही ओडिशा के विकास में अपना योगदान देंगे। वहीं बरमपुर से सांसद चन्द्रशेखर साहू एवं राउरकेला से विधायक सारदा नायक ने इस कार्यक्रम में भाग लेकर अपने अपने विचार रखे हैं। मुख्यमंत्री के सचिव वी.के.पांडियन ने कार्यक्रम का संचालन किया। विभागीय प्रमुख सचिव रंजना चोपड़ा ने स्वागत भाषण दिया। मुख्य सचिव सुरेश चन्द्र महापात्र, विकास कमिश्नर पी.के.जेना एवं विभिन्न विभाग के मुख्य सचिव तथा वरिष्ठ अधिकारी उपस्थित थे।

 

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021