जासं, भुवनेश्वर : राज्य सरकार द्वारा शुरू की गई मो सरकार योजना का असर राज्य में दिखने लगा है। शनिवार को रिश्वतखोरी में कोरापुट पुलिस ने एक डॉक्टर को गिरफ्तार किया है। आरोपित डॉक्टर मनोज जेना कोरापुट एसएलएन मेडिकल कॉलेज के एफएमटी विभाग से जुड़ा है। पुलिस ने उसे न्यायिक हिरासत में जेल भेज दिया है।

बता दें कि एक व्यक्ति से घूस लेने के आरोप में जयपुर सदर थाना अंतर्गत आंबगुड़ा पुलिस चौकी के तत्कालीन प्रभारी नारायण पटनायक तथा एसएलएन मेडिकल कॉलेज के एफएमटी विभाग के डॉ. मनोज जेना के खिलाफ थाना में मामला दर्ज हुआ था। इस मामले में पुलिस ने नारायण पटनायक को गिरफ्तार कर लिया था। डॉक्टर के मामले में पुलिस ने जांच की तो पता चला कि शव का पोस्टमार्टम करने के लिए जेना ने तीन हजार रुपये घूस मांगी थी और 2500 रुपये रिश्वत के तौर पर लिया था। जांच करने के बाद आरोप सही साबित हुआ और इसी आधार पर पुलिस ने डॉ. मनोज जेना को गिरफ्तार करने की बात कोरापुट के एसपी मुकेश कुमार भामू ने दी है। इस संदर्भ में मो सरकार प्रकोष्ठ से शिकायत की गई थी।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस