संसू, भुवनेश्वर : राज्य सरकार द्वारा आगामी तीन साल के अंदर सभी घरों को पक्का घर में तब्दील करने की घोषणा पर भाजपा ने तीखी प्रतिक्रिया की है। भाजपा के साधारण संपादक पृथ्वीराज हरिचंदन ने सरकार को टारगेट करते हुए सवाल किया है कि किस आधार पर 20 लाख पक्का घर की आवश्यकता दर्शायी गई है। जब हिताधिकारियों की सूची ही नहीं बनी तो सरकार कैसे दावा कर सकती है कि 20 लाख लोगों को आगामी मार्च में वर्क ऑर्डर दिया जाएगा।

भाजपा नेता ने कहा कि राज्य सरकार प्रधानमंत्री आवास योजना का नाम बदलकर लोगों को गुमराह करने की कोशिश कर रही है। अगर ऐसा होता है तो हम इसका पुरजोर विरोध करेंगे। उन्होंने कहा कि सरकार ने पहले जो 27 लाख 49 हजार 616 लाभुकों की सूची बनाई थी। उनमें कई अयोग्य लाभुक थे जिससे सूची को संशोधित करना पड़ा। नई सूची में 13 लाख 65 हजार 25 लोगों का नाम है जबकि सरकार घोषणा कर रही है कि 20 लाख लोगों को पक्का घर का वर्क ऑर्डर दिया जाएगा। उनहोंने सरकार से पूरी सूची को सार्वजनिक करने और किस योजना में कितने पक्के घर बनाए जाएंगे, इसे स्पष्ट करने की मांग की।

वहीं, भाजपा के इस आरोप पर बीजद की प्रवक्ता स्मिता पात्र ने कहा कि राज्य सरकार नहीं अपितु भाजपा लोगों को गुमराह कर रही है। केंद्र सरकार राज्य की विभिन्न योजनाओं की सराहना कर उसे पुरस्कार प्रदान कर रही है, जबकि प्रदेश में भाजपा उसका विरोध कर रही है।

Posted By: Jagran

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस