भुवनेश्वर, जेएनएन। गलत मार्ग पर गाड़ी चला रहे हैं तो अब आपकी खैर नहीं है क्योंकि कमिश्नरेट पुलिस ने राजधानी भुवनेश्वर में गलत तरीके से वाहन चलाने वालों को पकड़ने का अभियान शुरू किया है। गुरुवार को राजधानी भुवनेश्वर में कमिश्नरेट पुलिस की तरफ से 9 जगहों पर गलत मार्ग से बाइक चलाने वाले वालों की धरपकड़ की गई जिसके तहत एक ही दिन में कमिश्नरेट पुलिस ने 80 बाइकों को जब्त किया है।

कमिश्नरेट पुलिस ने इन बाइक चालकों पर कोई जुर्माना नहीं लगाया है बल्कि सीधे बाइक मालिक के नाम पर मामला दर्ज कर बाइक को जब्‍त करने के साथ कागजात को कोर्ट भेज दिया।‌ अब बाइक मालिक अदालत में हाजिर होंगे और वहीं पर जुर्माना देकर अपनी बाइक छुड़ाएंगे। जरूरत पड़ने पर इन बाइक चालकों को गिरफ्तार भी किया जाएगा। कमिश्नरेट पुलिस ने रांग रोड पर गाड़ी चलाने वालों के खिलाफ इस तरह का कड़ा कानूनी कार्यवाही शुरू की है जिसे लेकर राजधानी में लोगों में चर्चा शुरू हो गई हैं। कमिश्नरेट पुलिस का यह अभियान आगामी 1 सप्ताह तक चलाया जाएगा।

यहां उल्लेखनीय है कि राजधानी भुवनेश्वर में रांग रूट पर गाड़ी चलाने को लेकर ट्रैफिक पुलिस की चिंता बढ़ गई थी। गलत मार्ग से गाड़ी चलाने के कारण दुर्घटनाएं हो रही थी, ट्रैफिक जाम की समस्या हो रही थी। खासकर जयदेव विहार चौक से लेकर कीट चौक तक विभिन्न कट के पास बाइक चालक सरेआम नियम का उल्लंघन कर रहे थे। इसके अलावा राजधानी में अन्य कई जगहों पर हर दिन की समस्या बनी हुई थी।

गलत मार्ग पर बाइक चालकों को रोकने के लिए कमिश्नरेट पुलिस की तरफ से पिछली दोनों बैठक हुई थी जिसमें पुलिस कमिश्नर सुधांशु षडंगी, ट्रैफिक डीसीपी सागरिका नाथ, एडीसीपी किशोर पाणीग्राही तथा एसपी स्वास्तिक पंडा प्रमुख उपस्थित रहकर विभिन्न विषयों पर चर्चा की थी। पुलिस कमिश्नर के निर्देश के बाद राजधानी में विभिन्न जगहों पर यह जांच प्रक्रिया शुरू की गई है। डीसीपी सागरिका नाथ के नेतृत्व में 9 टीम ने राजधानी में डमड़ा चौक, कोयल कैंपस, तनिष्क, कीट, जागमरा, एस्प्लेनेड, राजमहल चौक के दोनों तरफ, राजभवन पेट्रोल पंप के पास, रूपाली चौक, रंगनगर चौक में जांच की गई है। जांच के दौरान इन जगहों पर अधिकांश युवा पुलिस के हत्थे चढ़े।

इस अभियान के तहत पुलिस ने जिन बाइकों को जब्त किया है उन बाइक चालकों को सीजर सूची पकड़ा दी गई है। इस सीजर सूची को पीआर एमवी फार्म के साथ जोड़कर पुलिस कोर्ट में भेजेगी। इसके बाद बाइक चालकों को अदालत से समन आएगा। बाइक चालक कोर्ट में हाजिर होंगे जुर्माना देंगे या फिर जेल जाएंगे वह अदालत विचार करेगी। बाइक मालिक अदालत की कॉपी ट्रैफिक थाना में दिखाकर अपनी बाइक ले जा सकेंगे।

पुलिस की इस कार्रवाई के बाद देर रात तक एजी चौक पर मौजूद चौक थाने में लोगों का जमावड़ा लगा रहा। कुछ क्षण के लिए उत्तेजना की भी स्थिति बनी। लोगों ने आरोप लगाया कि पुलिस ने उनकी बाइक को जबरन उठाकर ले आई है। लोगों ने यह भी कहा कि यदि बाइक रांग रूट से जा रही थी तो फिर पुलिस ने जुर्माना क्यों नहीं लगाया, बाइक को सीज क्यों कर दिया। यह पुलिस की गुंडागिरी है जिसे हम लोग बर्दाश्त नहीं करेंगे।

गौरतलब है कि गलत मार्ग पर कार एवं बाइक चलाने वालों के खिलाफ कमिश्नरेट पुलिस ने सख्त रुख अख्तियार किया है। इसके लिए कटक एवं भुवनेश्वर में 242 रांग रूट साइड की पहचान की गई है। इसमें से 32 को अत्यंत संवेदनशील स्थान माना गया है, जहां पर हर दिन दुर्घटना होती है। इन सभी चौक चौराहों पर स्पाइक बैरियर लगाने की भी योजना चल रही है। पहले चरण में रसूलगढ़ चौक के पास एसप्लानेड चौक पर यह स्पाइक बैरियर लगाए जाने की जानकारी ट्रैफिक एसपी स्वस्तिक पंडा ने दी है।

कालिया योजना हेराफेरीः सचिव को हटाया गया, आरोपी फरार

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस