भुवनेश्वर, जेएनएन। ओडिशा के ढेंकानाल शहर से सटे सप्तसैया पंचायत के बारसवाडिया गांव के समीप गोजापड़ा प्रोजेक्ट बांध से पानी निष्कासन के लिए लगाए गए होम पाइप के अंदर से छह विशालकाय अजगर निकाले गये है। इसकी सूचना मिलने के बाद सांप वन्य फाउंडेशन के सदस्य मौके पर पहुंचे और सभी छह अजगरों को निकाल कर स्थानीय मेघा संरक्षित जंगल में छोड़ दिया गया है।

खबर के मुताबिक सप्तसाया पहाड़ के पास स्थित गोजापड़ा बांध से पानी निष्कासन के लिए 80 फुट लंबी एवं 5 फुट चौड़ी पाइप लगाई गई है। इसी पाइप के किनारे से रास्ते का निर्माण कार्य चल रहा था ऐसे में पाइप के एक किनारे को बंद कर दिया गया था। ऐसे में इस पाइप से पानी निष्कासन नहीं हो रहा था। ऐसे में काफी दिनों से होम पाइप बंद रहने से उसके अंदर अजगर सांप अपना डेरा बना लिए थे। 2 दिन पहले उक्त जगह से अजगर को गांव वालों ने निकाला था और तब उन्हें अभी पता चला किस जगह पर काफी संख्या में अजगर मौजूद हैं।

देश का एकमात्र राज्य जहां ओबीसी वर्ग के लिए अभी तक लागू नहीं है आरक्षण: भाजपा

इसके बाद गांव वालों ने वन विभाग तथा सांप वन्य फाउंडेशन को इसकी जानकारी दी। सांप वन्य फाउंडेशन के सदस्य सेक लालू, पपुन दास, मनोज दास, आलोक महंती, कान्हा चरण महांती प्रमुख मौके पर पहुंचे। गांव वालों ने एक जेसीबी मशीन के सहारे होम पाइप के मुंह को खोला और फाउंडेशन के सदस्यों ने उसके अंदर घुसकर 18, 16 12, 10, 9, 8 एवं 6 फुट लंबे अजगरों को बाहर निकाला। फाउंडेशन के सदस्यों ने इन अजगरों को कपिलास पहाड़ के समीप मेघा संरक्षित जंगल में ले जाकर छोड़ दिया है।

 सन् 2019 में भारत में हुआ दो दर्जन से अधिक मिसाइलों का सफल परीक्षण, पढ़ें विस्तृत खबर

दाउद का गुर्गा लकड़ावाला मोबाइल पर मैसेज भेज मांगता था फिरौती, पढ़ें- जांच में सामने आए कुछ संदेश

 

Posted By: Babita kashyap

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस