भुवनेश्वर, जेएनएन। लगातार पांचवी बार ओडिशा के बागडोर संभालने वाले मुख्यमंत्री नवीन पटनायक का तेवर पिछली चार पारियों से अलग दिख रहा है। मुख्यमंत्री ने अपने मंत्रियों से प्रत्येक माह के सात तारीख से पहले बीजद के चुनावी इश्तहार को कार्यकारी करने की दिशा में रिपोर्ट देने को कहा है। सात जून से पहले मंत्रियों को पहली रिपोर्ट देने का मुख्यमंत्री ने आदेश जारी किया है।

उल्लेखनीय है कि नई सरकार के गठन के बाद 29 मई को मंत्रियों की पहली बैठक हुई थी। बैठक में चुनाव के समय लोगों से किए गए वादे को सरकार के प्रमुख कार्यक्रम में शामिल करने का निर्णय लिया गया था। महिलाओं के विकास, अभिवृद्धि में समान भागीदारी, कमजोर वर्ग के लोगों का विकास तथा युवा वर्ग के सपने को सफलता के साथ पूरा करने की दिशा में काम करने के लिए मुख्यमंत्री ने महत्व दिया है। साथ ही 375 दिन के बाद अर्थात 2020 मई 29 तारीख को सरकार के एक साल का रिपोर्ट कार्ड लोगों को देने के लिए भी मुख्यमंत्री ने स्पष्ट कर दिया है। मुख्यमंत्री ने स्पष्ट किया है कि हमने जो लोगों से वादा किया है, उसे एक साल में कितना पूरा किया है या फिर पूरा करने की दिशा में किस तरह से आगे बढ़ रहे हैं, उसे जनता के सामने रखा जाएगा। मुख्यमंत्री ने इसके लिए अपने मंत्रियों को प्रयास करने का भी आह्वान किया है।

मुख्यमंत्री से मिली भुवनेश्वर की सांसद अपराजिता षाड़ंगी

भुवनेश्वर लोकसभा की नवनिर्वाचित भाजपा सांसद अपराजित षाड़ंगी ने बुधवार को मुख्यमंत्री नवीन पटनायक से मुलाकात की। अपराजित षाड़ंगी ने मुख्यमंत्री से मुलाकात करने के बाद कहा है कि वे राज्य सरकार के साथ मिलकर ओडिशा का विकास करना चाहती हैं। केंद्र व राज्य सरकार दोनों मिलकर राज्य के विकास के लिए काम करेगी। इसके लिए हमने मुख्यमंत्री से सहयोग की कामना की है।

मुख्यमंत्री ने सभी प्रकार का सहयोग करने का आश्वासन दिया है। अपराजिता ने कहा कि आगामी दिनों में भुवनेश्वर संसदीय क्षेत्र को देश की सर्वश्रेष्ठ संसदीय क्षेत्र में तब्दील करने के लिए मैं काम करूंगी। बता दें कि अपराजिता आइएएस की नौकरी छोड़कर राजनीति में कदम रखा है।

 

लोकसभा चुनाव और क्रिकेट से संबंधित अपडेट पाने के लिए डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Babita kashyap