बालेश्वर, जेएनएन। रक्षाबंधन के दिन रविवार को शहर व आसपास सड़क हादसों की जैसे सुनामी आ गई। शहर के नीलगिरी क्षेत्र में एक घंटे के दौरान 50 से अधिक दुर्घटना हुई जिससे दर्जनों लोग घायल हो गए। इनमें से कुछ लोगों को नीलगिरी अस्पताल में प्राथमिक उपचार के बाद छोड़ दिया गया। गंभीर रूप से घायल लोगों को जिला मुख्य अस्पताल में भर्ती किया गया है। वहीं चांदीपुर थाना अंतर्गत साल्टरोड के समीप पाग नदी के पास हुई सड़क दुर्घटना में बाइक सवार साला व बहनोई की मौत हो गई।

नीलगिरी क्षेत्र में घटित हादसें कोई शराब के नशे में तो किसी के मोटरसाइकिल के सामने कुत्ता आ जाने तो किसी की बाइक पेड़ से टकराने के कारण हुए। नीलगिरी के पोड़ासोल, नीलगिरी शहर, सजनागड़, अंतरागड़िया, पीठाहोदा, बरहमपुर, छत्रपुर के साथ मात्र दो किलोमीटर के इलाके में रविवार की शाम 4 से 5 बजे के बीच 50 से ज्यादा दुर्घटना होने के चलते नीलगिरी अस्पताल में पीड़ितों समेत उन्हें देखने के लिए लोगों का हुजूम जुटा रहा। एक ही दिन और एक घंटे के अंदर एक ही इलाके में 50 से ज्यादा दुर्घटनाएं होने को लेकर तरह-तरह की चर्चा हो रही है। वहीं दूसरा वाकया चांदीपुर थाना क्षेत्र का है। चांदीपुर क्षेत्र निवासी बहनोई कालिया उर्फ चितरंजन बोरा (35) पाग नदी क्षेत्र निवासी अपने साले सुदर्शन हेम्ब्रम (26) के साथ बाइक से रविवार की देर रात सोनापुर से घर लौट रहे थे। पाग नदी के पास बाइक का संतुलन बिगड़ जाने से गाड़ी पुलिया से टकराकर करीब 30 फीट नीचे नाले में जा गिरी। रात अधिक होने से इस हादसे के बारे में किसी को पता नहीं चला और दोनों ने नाले में ही छट्पटाकर दम तोड़ दिया। सोमवार की सुबह घटना का पता चलने के बाद पुलिस ने मौके पर पहुंचकर दोनों शव को जब्त कर पोस्टमार्टम के लिए जिला अस्पताल भेजा है। इस हादसे की सूचना मिलने के बाद से मृतकों के परिवार वालों में कोहराम मचा हुआ है।

राखी बंधवाकर कॉलेज लौट रहे छात्र को कार ने कुचला, मौत इधर, कटक जिला के आठगड़-मुंडली मार्ग पर वनखंडी के पास सोमवार को हुए सड़क हादसे में एक छात्र की मौत गई है। मृत छात्र की पहचान रशेस दास के रूप में हुई है और वह अनुगुल जिला के अनुगुल थाना अंतर्गत तुरंग गांव का निवासी था। रेवेंशा विश्वविद्यालय, कटक में प्लस-3 कंप्यूटर साइंस के प्रथम वर्ष का छात्र रशेस रक्षाबंधन के दिन रविवार को अपने घर गया था। सोमवार की सुबह वह बाइक से कटक लौट रहा था। रास्ते में वनखंडी के पास कार से आमने-सामने भिडंत हो गई जिससे रशेस गंभीर रूप से घायल हो गया। गंभीर अवस्था में दमकल विभाग के कर्मचारियों ने उसे आठगड़ अस्पताल पहुंचाया, जहां पर डॉक्टरों ने उसे मृत घोषित कर दिया। हादसे के बाद कार चालक गाड़ी समेत फरार हो गया।