वाशिंगटन (पीटीआई)। आइएस के शीर्ष आतंकियों को अमेरिका ने ब्लैक लिस्ट में डाला है। प्रतिबंध लगने के बाद अमेरिका के क्षेत्र में स्थित इनकी सारी संपत्ति जब्त मानी जाएंगी और दोनों की सहायता करने वाले व्यक्ति या संस्था पर कार्रवाई होगी।

आतंकी अहमद अलखाल्द ने 2015 में पेरिस व 2016 में ब्रूसेल्स में हुए हमलों को अंजाम दिया था। विस्फोटक बनाने में माहिर इस आतंकी को ही यूरोप में हमलों के लिए जिम्मेदार माना जाता है। पेरिस में हमले के लिए विस्फोट करने वाली बैल्ट को उसने तैयार किया था। वह संगठन के विस्फोट बनाने वाले दस्ते का प्रमुख है। उसकी गिरफ्तारी के लिए यूरोपियन वारंट जारी किया जा चुका है।

ब्लैक लिस्ट में डाला गया अल इराकी नाम का दूसरा आतंकी अल बगदादी की सुरक्षा देखता है। अमेरिका अभी तक 30 आइएस आतंकियों व नेताओं को काली सूची में डाल चुका है। उसका ध्येय इस आतंकी संगठन की कमर तोड़ना है। इसके लिए अभियान बनवाकर अमेरिकी सरकार प्रयासरत है।

गौरतलब है कि बीते दिन हिजबुल मुजाहिदीन को अमेरिका ने एक आतंकी संगठन घोषित करते हुए उसे प्रतिबंधित सूची में डाल दिया था। इससे पहले भी अमेरिका ने पाकिस्तानी हिजबुल मुजाहिदीन के सरगना सैयद सलाहुद्दीन को वैश्रि्वक आतंकवादी घोषित किया था। अमेरिका के इस कदम का भारत ने स्वागत किया था।

यह भी पढ़ें: गाजा में आइएस का आत्‍मघाती हमला, 2 की मौत 5 घायल

यह भी पढ़ें: 'लव जिहाद' ब्लू व्हेल गेम जैसा, दोनों का लक्ष्य एक: सुप्रीम कोर्ट

 

Posted By: Kishor Joshi

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप