वाशिंगटन (पीटीआई)। अमेरिका में राष्ट्रपति पद के लिए रिपब्लिकन पार्टी के उम्मीद्वार डोनाल्ड ट्रंप ने कहा है कि यदि वह इस चुनाव में जीतेे तो येरुशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देंगे। क्योंकि यही सच है। फ्लोरिडा में अपनी कैंपेन रैली के दौरान उन्होंने अमेरिकी राष्ट्रपति बराक ओबामा पर भी जमकर हमला बोला। उन्होंने कहा कि बराक प्रशासन ने हमेशा से ही इस बात को बेहद हल्के में लेते हुए हमेशा ही नजरअंदाज किया है।

अपने इस प्रचार अभियान के तहत हुई रैली में उन्होंने इस बाबत संयुक्त राष्ट्र को भी आड़े हाथों लिया। उन्होंने कहा कि इतने वर्षों में संयुुक्त राष्ट्र भी येरुशलम को इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देने में विफल रहा है। उन्होंंने कहा कि कांग्रेस में ज्यादातर सांसद इस बात को मानते हैं कि येरुशलम ही इजरायल की राजधानी होनी चाहिए। गौरतलब है कि ट्रंप ने यही बातें पिछले माह इजरायल प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतनयाहू से मुलाकात के दौरान भी कही थी। इस दौरान उन्होंने कहा था कि वह पहले भी इस बात को कई मंचों पर दोहरा चुके हैं कि अमेरिका येरुशलम को ही इजरायल की राजधानी के तौर पर मान्यता देगा। यह मुलाकात करीब 90 मिनट तक चली थी।

इस मुलाकात के बाद जारी किए गए एक बयान में कहा गया था कि इस दौरान दोनों देशों के बीच विशेष संबंध तथा अटूट बंधन को लेकर चर्चा हुई। इसके अलावा सैन्य सहायता, सुरक्षा तथा क्षेत्रीय स्थायित्व के मुद्दों पर बातचीत हुई। मुलाकात के दौरान रिपब्लिकन के उम्मीदवार ट्रंप ने कहा कि ट्रंप प्रशासन में दोनों देशों के बीच सामरिक, तकनीकी, सैन्य तथा खुफिया सहयोग मजबूत करने पर भी बात की थी। इसके अलावा उन्होंने आतंकवाद के खिलाफ लड़ाई में इजारइल को अमेरिका का महत्वपूर्ण भागीदार बताया था।

दूसरी डिबेट के बाद हिलेरी की ट्रंप पर बढ़त बरकरार, 57 फीसद लोगों ने किया समर्थन

राष्ट्रपति चुनाव की दूसरी डिबेट के बाद यूएस मीडिया ने हिलेरी को बताया 'विनर'

डोनाल्ड ट्रंप से जुड़ी सभी खबरों को पढ़ने के लिए क्लिक करें

अमेरिकी चुनाव से जुड़ी सभी खबरों को पढ़ने के लिए क्लिक करें

Posted By: Kamal Verma

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस