सियोल, रायटर। दक्षिण कोरिया में बुधवार को सैमसंग कंपनी के प्रमुख जे वाई ली से न्यायाधीश ने बंद कमरे में पूछताछ की। ली से यह पूछताछ उस भ्रष्टाचार मामले में की गई जिसमें राष्ट्रपति पार्क ग्यून हेई भी शामिल हैं। राष्ट्रपति के खिलाफ संसद ने महाभियोग प्रस्ताव पारित कर दिया है और अब उन्हें हटाने के लिए नियमानुसार देश की संवैधानिक अदालत मुकदमा चला रही है।

ली से अदालत ने पूछा कि जांच एजेंसियों के अनुरोध पर क्यों न उनकी गिरफ्तारी का वारंट जारी किया जाए? जवाब में ली ने कोई भी गैरकानूनी कार्य करने से इन्कार कर दिया। उनकी गिरफ्तारी पर अभी कोई फैसला नहीं हुआ है। अदालत गुरुवार को अपना फैसला दे सकती है। ली पर राष्ट्रपति की सहेली चोई सुन सिल के संगठनों को करीब ढाई अरब रुपये की रिश्वत और महंगे उपहार देने का आरोप है।

इसके बदले में उन्हें सरकार की ओर से कई तरह के लाभ मिले। जांच एजेंसियों ने ली पर रिश्वत देने और साजिश रचने जैसे आरोप लगाए हैं। जांच एजेंसियों ने ली पर लगे आरोपों पर बीते सप्ताह उनसे लगातार 22 घंटे तक पूछताछ की थी। उल्लेखनीय है कि ली दक्षिण कोरिया की सबसे बड़ी कारोबारी कंपनी सैमसंग के प्रमुख हैं। कंपनी की स्थापना उनके दादा ने की थी। ली ने 2014 में अपने पिता को हुए हार्ट अटैक के बाद कारोबार संभाला है।

Posted By: Gunateet Ojha

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस