इस्लामाबाद। सुप्रीम कोर्ट ने प्रधानमंत्री राजा परवेज अशरफ के खिलाफ अवमानना नोटिस वापस ले लिया है। राष्ट्रपति आसिफ अली जरदारी के खिलाफ भ्रष्टाचार का मामला दोबारा खोलने संबंधी पाकिस्तान सरकार के पत्र के स्विटजरलैंड पहुंचने की पुष्टि होने के बाद अदालत ने यह फैसला किया है। जरदारी के खिलाफ पत्र नहीं भेजने के कारण कोर्ट ने यह अवमानना नोटिस जारी किया था।

विधि मंत्री फारूक नाइक ने जस्टिस अनवर जहीर जमाली की पीठ के सामने स्विस अधिकारियों द्वारा भेजी गई प्राप्ति रसीद पेश की। कोर्ट के फैसले के बाद नाइक ने कहा कि यह निर्णय न्याय और लोकतंत्र की जीत है। गौरतलब है कि सुप्रीम कोर्ट में जरदारी और उनकी पत्नी एवं भूतपूर्व प्रधानमंत्री बेनजीर भुंट्टो के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में 2009 में तब नया मोड़ आया जब अदालत ने उन्हें कार्रवाई से मिली छूट को खारिज कर दिया था। इस मामले में कोर्ट की अवमानना करने के कारण यूसुफ रजा गिलानी से प्रधानमंत्री पद छोड़ना पड़ा था। उनके बाद राजा परवेज अशरफ को प्रधानमंत्री बनाया गया था।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

अब खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस, डाउनलोड करें जागरण एप