वाशिंगटन। अमेरिका के टेक्सस विश्वविद्यालय के वैज्ञानिक एक ऐसा कंडोम बना रहे हैं जिसके फटने से भी एचआईवी एड्स जैसी गंभीर बीमारी नहीं होगी। वैज्ञानिक यह कंडोम एक नए तकनीक और डिजाइन से बना रहे हैं।

एक अंग्रेजी वेबसाइट में छपी खबर के अनुसार, इस कंडोम में लेटेक्स की बजाए पॉलिमर होइड्रोजेल का इस्तेमाल किया गया है। इस टीम से जुडे़ डॉ. महुआ चौधरी ने बताया है कि यह कंडोम नए डिजाइन से बनाया जा रहा है। इससे लोगों को एलर्जी भी नहीं होगी।

यह भी पढ़ें : जल्दी पिता बनने के लिए एक घंटे में करें दो बार सेक्स

डॉ महुआ ने कहा, 'मेडिकल दुकानों पर बिकने वाले कंडोम लेटेक्स की मदद से बनाए जाते हैं लेकिन हमारी टीम यह कंडोम हाइड्रोजेल की मदद से बना ही है। हाइड्रोजेल एक ऐसा जेल है जो मुख्य तौर पर पानी से बनाया जाता है।'

डॉ महुआ चौधरी ने इस कंडोम को लेकर कई अन्य दावे भी किए हैं। उनका दावा है कि इस कंडोम के इस्तेमाल से एचआईवी एड्स से भी बचा जा सकेगा। साथ ही जोड़े सेक्स करते हुए आनंद भी उठा सकेंगे।

यह भी पढ़ें : कंडोम के इस्तेमाल के बाद पूरा आनंद नहीं उठा पाते हैं पार्टनर

बता दें कि इस कंडोम को बनाने वाली टीम का मानना है कि आने वाले छह से सात महीनों में यह कंडोम बनकर तैयार हो जाएगा।

Posted By: Sanjeev Tiwari