कराची, एएनआई। पाकिस्तान के एक प्रमुख वकील शरीफुद्दीन पीरजादा का शुक्रवार को एक लंबी बीमारी के बाद 93 वर्ष की आयु में निधन हो गया। पाकिस्तानी अखबार डॉन की रिपोर्ट के मुताबिक 1940 के दशक में पीरजादा पाकिस्तान के संस्थापक मुहम्मद अली जिन्ना के सचिव थे। सिंध उच्च न्यायालय में सभी कानूनी कार्यवाही अस्थायी रूप से कुछ देर रोककर प्रतिष्ठित वकील पिरजादा को सम्मान दिया गया।

पीरजादा ने पाकिस्तान में सैन्य शासन के दौरान उत्तराधिकार के लिए कानूनी आवरण प्रदान किया था। उन्हें पाकिस्तान के शीर्ष संवैधानिक विशेषज्ञों में से एक माना जाता था।

पीरजादा, पूर्व राष्ट्रपति जनरल परवेज मुशर्रफ (सेवानिवृत्त) की टीम के सैन्य शासक के दौरान रक्षा टीम में मुख्य चेहरा थे। 1985 से 1988 के दौरान पीरजादा ने ऑर्गनाइजेशन ऑफ इस्लामिक कॉन्फ्रेंस में महासचिव के रूप में कार्य किया।

यह भी पढ़ें: पनामा पेपर लीक मामले में शरीफ के छोटे बेटे हसन JIT के समक्ष पेश
 

आज़ादी की 72वीं वर्षगाँठ पर भेजें देश भक्ति से जुड़ी कविता, शायरी, कहानी और जीतें फोन, डाउनलोड करें जागरण एप

Posted By: Mohit Tanwar