लाहौर, जेएनएन। जमात-उद-दावा प्रमुख अब्दुल रहमान मक्की ने भारत के खिलाफ जहर उगलते हुए जम्मू-कश्मीर में जिहाद को तेज करने की बात कही है। मक्की ने भारत के खिलाफ यह भड़काऊ भाषण पाकिस्तानी सरकार के सामने दिया। 3 मार्च को कश्मीर के बांदीपोरा में भारतीय सुरक्षाबलों के हाथों मारे गए आतंकवादी अबु वलीद मोहम्मद को याद करने के लिए लाहौर के अल-दावा मॉडल स्कूल में आयोजित कार्यक्रम में मक्की ने सीमा पार आतंकवाद को बढ़ावा देने की बात कही।

अब्दुल रहमान मक्की 20 लाख डॉलर के ईनामी आतंकी हाफिज सईद का रिश्तेदार है। अपने इस भाषण में मक्की ने अबु वलीद मोहम्मद का 'गुणगान' किया और कश्मीर में मारे गए जेयूडी के आतंकियों को भी याद किया। पश्चिमी देशों द्वारा जेयूडी सदस्यों को कट्टरपंथी, जिहादी और आतंकवादी बताते हुए संगठन को क्षेत्र की शांति के लिए खतरनाक घोषित किए जाने पर मक्की ने कहा कि जमात-उद-दावा का मुख्य उद्देश्य पाकिस्तान को संगठित करना और कश्मीर को हिंदू ताकतों से आजाद कराना है।

मक्की को मार्च 2017 में संगठन का प्रमुख बनाया गया। हाफिज सईद को आतंकवादी घोषित कराने के लिए भारत द्वारा विश्व समुदाय को राजी करने और मुंबई हमले के मास्टरमाइंड को नजरबंद कराने को लेकर मक्की ने अपनी बौखलाहट जाहिर की। मक्की ने पूर्व पाकिस्तानी पीएम पर निशाना साधते हुए कहा कि, 'जिहाद के रास्ते पर चलने से दूसरों को रोकने वालों को अल्लाह सजा देता है।'

यह भी पढ़ें: भगोड़े मुशर्रफ की वतन वापसी मुश्किल, सेना समेत धार्मिक संस्थाएं भी खफा

Posted By: Ravindra Pratap Sing

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस