तेहरान। सीरिया के राष्ट्रपति बशर अल-असद की सरकार को विद्रोहियों से निपटने में सहायता देने के लिए ईरान ने अपने सैनिक भेजे है। ईरानी रिवोल्यूशनरी गार्ड्स के एक वरिष्ठ कमांडर ने इसकी जानकारी दी है।

रिवोल्यूशनरी गाडर््स की एक शाखा एवं विदेशी अभियानों के प्रभारी, कुद्स बल के उपप्रमुख, इस्माइल घानी ने कहा है कि सीरिया में हमारी उपस्थिति से पहले विद्रोहियों ने तमाम लोगों की हत्या की, लेकिन ईरान की प्रत्यक्ष एवं परोक्ष उपस्थिति से सीरिया में बड़े नरसंहार नहीं हो पाए हैं।

सूत्रों के अनुसार घानी ने यह बात इरानियन स्टूडेट्स न्यूज एजेंसी आईएसएनए के साथ एक बातचीत में कही है। आईएसएनए ने यह बातचीत रविवार रात प्रकाशित की थी, लेकिन भारी दबाव के कारण इस साक्षात्कार को बाद में वेबसाइट से हटा लिया गया।

ज्ञात हो कि सीरिया, ईरान का सबसे महत्वपूर्ण क्षेत्रीय सहयोगी है, और तेहरान ने लेबनान और गाजा में क्रमश हिजबुल्ला और हमास जैसे आतंकी संगठनों को सक्रिय बनाए रखने के लिए पड़ोसी सीरिया को अपने अभियानों के एक ठिकाने के रूप में लंबे समय से इस्तेमाल कर रहा है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस