माले।भारत ने स्पीडबोट विस्फोट की जांच में मालदीव को सहायता देने की पेशकश की है। मालदीव के राष्ट्रपति अब्दुल्ला यामीन और उनकी पत्नी को ले जा रहे स्पीडबोट में सोमवार को विस्फोट हुआ था।

मालदीव के विदेश मंत्री मोहम्मद हुसैन शरीफ ने बताया कि भारत, अमेरिका, सऊदी अरब और कई अन्य देशों ने जांच में मदद देने की पेशकश की है। उन्होंने कहा कि श्रीलंका के विदेश उपमंत्री हर्ष डि सिल्वा ने उनसे बातचीत की और मदद की पेशकश की। मालदीव ने इसे स्वीकार कर लिया और विस्फोट की जांच में फोरेंसिक सहायता देने को कहा है।

इस बीच मालदीव की पुलिस ने बताया कि जांच के लिए सऊदी अरब से फोरेंसिक विशेषज्ञों का एक दल और अमेरिकी फेडरल ब्यूरो ऑफ इंवेस्टिगेशन (एफबीआइ) के एजेंट मालदीव पहुंच गए हैं। स्पीडबोट के चालक दल के पांच सदस्यों को पूछताछ के लिए बुलाया गया है। गौरतलब है कि इस विस्फोट में मालदीव के राष्ट्रपति यामीन को कुछ नहीं हुआ लेकिन उनकी पत्नी फातिमात इब्राहिम और दो अन्य लोग जख्मी हो गए थे।

पढ़ेंः हज से लौट रहे मालदीव के राष्ट्रपति पर हमला, पत्नी जख्मी

Posted By: Sanjeev Tiwari