वाशिंगटन। भारतीय राजनयिक देवयानी खोबरागडे विवाद को हल करने की कोशिशों के बीच अमेरिका ने बुधवार को कहा कि भारत के साथ द्विपक्षीय बातचीत में घरेलू कामगारों के मुद्दे को शामिल किया जाएगा। देवयानी को वीजा धोखाधड़ी मामले में 12 दिसंबर को अपमानजनक तरीके से गिरफ्तार किया गया था। बाद में उन्हें जमानत पर रिहा कर दिया गया था।

पढ़ें: देवयानी के दस्तावेजों की हो रही समीक्षा: अमेरिका

अमेरिकी विदेश मंत्रालय के एक अधिकारी ने बताया, 'मंत्रालय भारत सरकार के साथ बातचीत कर इस मसले का हल निकालने के लिए रास्ता तैयार करना चाहता है।' विदेश मंत्रालय न्यूयॉर्क स्थित भारतीय वाणिज्य दूतावास से संयुक्त राष्ट्र के स्थायी मिशन में देवयानी के तबादले संबंधी आवेदन की समीक्षा कर रहा है। अधिकारी ने कहा, हम बड़े मुद्दों को सुलझाने को आवश्यक मानते हैं, लेकिन आगामी सप्ताहों और महीनों में होने वाली द्विपक्षीय बातचीत में घरेलू कामगारों के मसले को भी शामिल किया जाएगा। उनकी यह प्रतिक्रिया एक दिन पहले ही भारत द्वारा खास श्रेणी के अमेरिकी राजनयिकों को दी गई छूट कम किए जाने और उनके परिवार के सदस्यों को दी गई छूट वापस लेने के बाद आई है।

भारत स्थित चार अमेरिकी वाणिज्य दूतावास के अधिकारियों को नए पहचान पत्र जारी किए गए हैं। इसमें सीमित छूट के बारे में बताया गया है। अब उन्हें गंभीर अपराध के मामलों में संरक्षण नहीं मिलेगा। अमेरिका में भारतीय वाणिज्य दूतावास के अधिकारियों को मिली सीमित छूट को देखते हुए भारत ने यह कदम उठाया है।

मोबाइल पर ताजा खबरें, फोटो, वीडियो व लाइव स्कोर देखने के लिए जाएं m.jagran.com पर