बीजिंग, आइएएनएस। अरुणाचल प्रदेश में बुनियादी ढांचे के निर्माण को लेकर चीन ने भारत को 'सतर्क' रहने और 'संयम' बरतने के लिए कहा है। चीन का यह बयान ऐसे समय आया है जब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने हाल ही में अरुणाचल प्रदेश को असम से जोड़ने वाले देश के सबसे लंबे सेतु का उद्घाटन किया है।

चीनी विदेश मंत्रालय ने कहा, 'हम उम्मीद करते हैं कि चीन के साथ सीमा मुद्दे के अंतिम समाधान से पहले भारत इस मसले पर सचेत और संयमी रुख अपनाएगा। ताकि सीमाई इलाकों में शांति, शांति की रक्षा और विवादों को संयुक्त रूप से नियंत्रित रखा जा सके।' चीन की ओर से जारी बयान के मुताबिक, चीन-भारत सीमा के पूर्वी हिस्से को लेकर उसका रुख बिल्कुल साफ है और इसमें कोई बदलाव नहीं हुआ है। बयान के मुताबिक, चीन और भारत को अपने सभी क्षेत्रीय विवाद आपसी बातचीत और परामर्श से सुलझाने चाहिए।

बता दें कि हाल ही में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ब्रह्मपुत्र नदी पर 9.2 किमी लंबे सेतु का लोकार्पण किया है। ढोला और सदिया के बीच बना यह सेतु अरुणाचल प्रदेश को असम से जोड़ता है और इसके निर्माण से दोनों स्थानों के बीच की दूरी 165 किमी घट गई है।

यह भी पढ़ेंः ट्रंप प्रशासन में सर्वाधिक वेतन पाने वाली 5 महिला स्‍टाफ हुईं शामिल

Posted By: Gunateet Ojha