ब्रिटेन। कैली वेट्स को गंदा होने और कीटाणुओं का इतना डर है कि वह अपनी बॉडी को रोज वैक्यूम क्लीनर से साफ करती है। घर में एक कमरे से दूसरे कमरे में जाने से पहले वह अपने कपड़ों की धूल के एक-एक कण को अलग कर लेना चाहती है।

कैली का अनुमान है कि वह रोजाना करीब 30 घंटे अपने घर की सफाई में लगाती है और दिन में करीब छह बार टॉयलेट को ब्लीच करती है। ऐसा वह ऑब्सेसिव कम्पल्सिव डिसऑर्डर (OCD) के कारण करती हैं। एक एक तरह का मनोरोग होता है, जिसमें व्यक्ित अपनी उत्सुकता को खत्म करने के लिए एक ही काम बार-बार करता रहता है।

पढ़ेंः एक दिन में इतनी बार यौन संबंधों के बारे में सोचती हैं महिलाएं

35 वर्षीय इस ब्यूटी क्वीन को 10 साल पहले OCD से पीड़ित होने का पता चला था। उन्होंने बताया कि जब वह अपने कमरों में वैक्यूम क्लीनर का इस्तेमाल करती हैं, तो हर कमरे में जाने से पहले खुद के शरीर पर भी वैक्यूम क्लीनर घुमा लेती हैं। इसके कारण वह घर में ऐसा कोई सामान नहीं लाती हैं, जिसे पकाना पड़े।

कारण घर में खाना बनाने से उनके घर की खूबसूरती खराब हो सकती है। वह सिर्फ उन्हीं चीजों को खाती हैं, जिन्हें पकाना नहीं पड़े। वह रेस्टोरेंट से खाना मंगाती हैं और उसे घर ले जाती हैं। यदि वह बाहर खाना खाती हैं आने साथ एंटी बैक्टीरियल जेल, क्लीनिंग वाइप्स और टिशू के दो पैक लेकर चलती हैं।

जब उन्हें मिस यूनाइटेड किंगडम का ताज पहनाया गया था, तो कैली से कहा गया था कि वह युगांडा के ड्रीम फाउंडेशन की एंबेस्डर बन जाएं। यह संस्था एचआईवी और एड्स से प्रभावित बच्चों की मदद के लिए काम करती है। मगर, कैली ने अपनी OCD का हवाला देते हुए वहां जाने से इंकार कर दिया।

पढ़ेंः युवती से शारीरिक संबंध बनाए, जब गर्भवती हुई तो भाग गया विदेश..., पढ़ें खबर

Posted By: Sanjeev Tiwari

डाउनलोड करें जागरण एप और न्यूज़ जगत की सभी खबरों के साथ पायें जॉब अलर्ट, जोक्स, शायरी, रेडियो और अन्य सर्विस