काबुल (आईएएनएस)। अफगानिस्तान के राष्ट्रपति अशरफ गनी और तुर्कमेनिस्तान के राष्ट्रपति गुरबांगुली बर्दीमुहामदोव बीच तापी गैस पाइपलाइन प्रोजेक्ट को लेकर शुक्रवार को फोन पर बातचीत हुई। इस प्रोजेक्ट में इन दोनों देशों के अलावा भारत और पाकिस्तान भी शामिल हैं। दोनों देशों के राष्ट्राध्यक्षों के बीच हुई बातचीत में दोनों देशों के बीच संबंधों को मजबूत करने और क्षेत्रीय तथा अंतरराष्ट्रीय मुद्दों पर एक राय बनाने पर भी बातचीत हुई।

अफगानिस्तान की न्यूज एजेंसी टोलो न्यूज के मुताबिक वर्ष 2015 में तापी गैस पाइपलाइन प्रोजेक्ट की शुरुआत हुई थी। इस पाइपलाइन के वर्ष 2019 तक पूरा होने की उम्मीद है। बातचीत के दौरान तुर्कमेनिस्तान के राष्ट्रपति बर्दीमुहामदोव अशरफ गनी को अपने यहां आने का न्योता दिया है। तापी गैस प्रोजेक्ट की कुल लंबाई करीब 1814 किमी है। साथ ही इसकी सालाना 33 क्यूबेक मीटर गैस निकालने की क्षमता है।

इस पाइपलाइन का करीब 214 किमी का हिस्सा तुर्कमेनिस्तान से होकर गुजरता है। इसके अलावा करीब 774 किमी अफगानिस्तान और 826 किमी का भाग पाकिस्तान से होकर गुजरता है। यह पाइपलाइन भारत के पंजाब प्रांत के फाजिल्का तक पहुंचेगी।

Indian T20 League

शॉर्ट मे जानें सभी बड़ी खबरें और पायें ई-पेपर,ऑडियो न्यूज़,और अन्य सर्विस, डाउनलोड जागरण ऐप

kumbh-mela-2021