जागरण संवाददाता, समालखा : मछरौली रोड स्थित एक कंपनी में महिला टीम लीडर के पद पर काम करने वाला मीता मिश्रा को कैंटर ने टक्कर मार दी। महिला का पैर व पसली टूटने के साथ सिर तक में गंभीर चोट आई है। हादसा उस वक्त का है, जब वो अपनी बहन के साथ कंपनी से छुट्टी के बाद सड़क पार कर रही थी। गनीमत ये रही की दूसरी बहन बाल बाल बच गई।

संगीता के मुताबिक वह खेल बाजार पानीपत हाल ऋषि कालोनी सनौली रोड पानीपत की रहने वाली है। मछरौली स्थित कंपनी में काम करती है। कंपनी में उसकी बहन मीता मिश्रा निवासी रसुलिया होशंगाबाद मध्यप्रदेश हाल हुडा सेक्टर 11-12 पानीपत भी महिला टीम लीडर के पद पर काम करती है। दोनों बहनें कंपनी से छुट्टी के बाद शाम को सवा चार बजे के करीब सर्विस रोड पर सड़क पार कर रही थी, तभी कैंटर ने उसे सीधी टक्कर मार दी।

हादसे में मीता का पैर व पसली टूटने के अलावा सिर पर गंभीर चोट आई। वह उसे अस्पताल लेकर पहुंची। हादसे के बाद से मीता बेसुध है। वहीं दूसरा हादसा समालखा में फ्लाईओवर पर हुआ, जहां ईको ने बाइक सवार सोहन निवासी गांव मुरथल व उसकी चाची कृष्णा को टक्कर मार दी। चाची को गांव बरसत से मुरथल लेकर जा रहा था।

फ्लाईओवर से उतरते समय ईको ने पीछे से टक्कर मार दी। राहगीरों ने दोनों को अस्पताल में भर्ती कराया। जहां से चोट ज्यादा होने पर खानपुर मेडिकल कालेज रेफर कर दिया। पुलिस ने दोनों मामलों में केस दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Edited By: Jagran